Rewari News : किसानों की परेशानियां नहीं हो रही कम, फसल खरीद से लेकर बेचने तक परेशानी, अब खाद के लिए लगा रहे चक्कर



ग्राम समाचार न्यूज़ : रेवाड़ी : अन्नदाता किसानों की परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रही है फसल खरीदने से लेकर बेचने तक अन्नदाता को परेशानी झेलनी पड़ रही हैं अब समय फसल की बिजाई का है. लेकिन किसानों को खाद नहीं मिल रहा है और किसानों को खाद के लिए चक्कर लगाने पड़ रहे हैं किसानों की परेशानी का यह कोई पहला मामला नहीं है. हर बार सरकार और प्रशासन की ओर से अनेक वादे और दावे किए जाते हैं लेकिन सब के सब धरे के धरे रह जाते हैं यह जो तस्वीर हम आपको दिखा रहे हैं रेवाड़ी की नई अनाज मंडी की है जहां डीएपी खाद के लिए किसान किस तरह परेशान हो रहे हैं. धूप में लाइन में लगकर धक्का-मुक्की सहन कर रहे है, जद्दोजहद कर रहे हैं लेकिन किसानों को खाद के बैग नहीं मिल रहे हैं. खाद लेने आए किसानों का कहना है कि अब फसल बिजाई का उचित समय है उन्हें अपने सरसों की फसल की बिजाई करनी है लेकिन खाद नहीं मिल रहा है ऐसे में उनके सामने परेशानी खड़ी हो रही है एक तो वे अपना काम धंधा छोड़ कर आए हैं ऊपर से कई दिन से चक्कर काट रहे हैं लेकिन खाद नहीं मिलता है. सरकार तो बड़े-बड़े दावे करते नहीं थकती की किसानों को कोई परेशानी नहीं होगी. लेकिन किसानों को हर बार इसी तरह परेशानी झेलनी पड़ रही है हालांकि अनाज मंडी में दो तीन जगह पर खाद वितरण की जा रही है बावजूद इसके किसानों की भीड़ कम नहीं हो रही इसका कारण यह है कि एक आधार कार्ड से एक किसान को खाद के दो बैग ही मिल रहे हैं जबकि प्रति किसान 5 से 7 बैग की कम से कम आवश्यकता है इसलिए किसान अपने परिवार के दो दो लोगों को लाइन में लगा कर खाद के लिए इंतजार कर रहे हैं तब भी उनकी पूर्ति नहीं हो पा रही है समय पर खाद नहीं मिलने से नाराज किसानों का कहना है कि वे काम छोड़कर हर रोज आ रहे हैं लाइन में लग रहे हैं लेकिन उन्हें खाद नहीं मिल रही है अपने अपनों को और सिफारिश वालों को खाद तुरंत मिल जाता हैं और बिना सिफारिश वालों को चक्कर कटवाए जाते हैं. डीएपी खाद की किल्लत ने किसानों की परेशानी को और बढ़ा दिया है 25 अक्टूबर तक सरसों की बिजाई के लिए सही समय है इसलिए किसानों की बेचैनी भी बढ़ रही है आज मंगलवार को नई अनाज मंडी में दो जगहों पर खाद का वितरण किया गया जिसके लिए किसान सुबह 6:00 बजे से किसान केंद्रों के बाहर जुटना शुरू हो गए थे और लंबी लंबी कतारें लग गई थी. खाद बांटने का समय 10:00 बजे बाद शुरू होता है. सबसे बड़ी परेशानी किसानों की यह भी है कि एक आधार कार्ड से केवल दो ही कट्टे मिल रहे हैं जबकि किसी को पांच तो किसी को सात बैग की आवश्यकता है. इसलिए कईयों ने तो अपने परिवार के दो सदस्यों को लगाना पड़ रहा है तब भी पर्याप्त खाद नहीं मिल रहा है. खाद लेने के लिए वाहन लेकर बड़ी संख्या में किसानों के कारण अनाज मंडी में जाम की स्थिति भी बनी रही. किसानों ने बाइक और ट्रैक्टर ट्राली मंडी के आढ़तियों की दुकान के आगे लगा दिए जिस कारण आढ़तियों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. किसानों का कहना है कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस की ओर से कोई व्यवस्था नहीं की गई.जिस कारण अधिक धक्का-मुक्की हो रही है और गर्मी के कारण परेशानी और बढ़ गई है. हालांकि जैसे ही मीडिया ने कवरेज करना शुरू किया तभी डायल 112 और सेक्टर 3 चौकी पुलिस मौके पर पहुंची और इधर उधर से भीड़ को हटाया और सिस्टम से लाइन बनाकर खाद लेने के लिए कहा गया.

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education