Rewari News : टी सी राव ने छात्राओं को भविष्य सवांरने के लिए प्रेरणा एवं रोजगार परामर्श दिया

शहीद कल्याण फाउंडेशन के संयोजक एवं प्रसिद्ध समाजसेवी डाॅ0 टी सी राव द्वारा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय वसंत कुंज में आयोजित प्रेरणा एवं रोजगार परामर्श हेतु शिविर में स्कूली छात्राओं को आज प्रेरणायें एवं परामर्श दिए गये । शिविर में सबसे पहले डाॅ0 टी सी राव का प्रिंसिपल श्रीमती प्रवीण कुमारी, मेंटोर श्रीमती कमलेश, ई एम सी कोडिनेटर श्रीमती स्वर्ण लता, ई एम सी अध्यापिका धनवन्ती वर्मा, श्रीमती पूनम शर्मा, भावना कुमारी, गरिमा जैन, हिमंशी कुमारी, रेनु वर्मन एवं आरती भाटी द्वारा अभिनंदन किया गया । बच्चे को उसके अच्छा काम करने पर पुरस्कृत जरुर करें । चाहे वो पाकेट मनी या फिर कोई उसकी रुची वाली नई चीज लाकर दें ।



डाॅ0 टी सी राव द्वारा दिये गये रोजगार सुझाव एवं प्रेरणाओं को सुनकर छात्राओं ने बार-बार तालीयां बजाकर अभिवादन किया । अंत में स्कूल के प्रिंसिपल एवं कर्मचारी द्वारा डाॅ0 टी सी राव को आभार प्रकट करते हुए उन्हें स्कूल की ओर से फूलों का गमला भेंट किया गया ।
इस मौके पर डाॅ0 टी सी राव छात्राओं को संबोधित करते हुए निम्नलिखित महत्वपूर्ण प्रेरणायें दी:-
सदा सकारात्मक सोचें अपने परिणाम के बारे में । , घर पर समय सारणी बनाकर पढाई करें । , हर 50 मिनट बाद 5 से दस मिनट का ब्रेक अवश्य लें । , कुर्सी तथा मेज पर बैठकर पढाई करें । , शब्दकोष एवम अैटलस को नजदीक टेबल पर रखें तथा उसे रैफर करने की आदत डालें । , अपनी टेबल पर पानी का जग अवश्य रखें । बार - बार पानी पीते रहें । , संतुलित एवम सेहत के लिए फायदेमंद भोजन लें । शाम को खाना कम खायें । , घर के शांत स्थान पर बैठकर पढाई करें । मोबाईल फोन, टी वी से दूर रहें ।
अभिभावकों के लिए भी कुछ महत्वपुर्ण सुझावें दी जो निम्नलिखित हैंः-
बच्चों में सकारात्मक सोच पैदा करने के लिए हमें प्रयास करने है ।, स्कूल में कभी कभी अपनी उपस्थिती दर्ज कराना तथा अध्यापकों से मिलना बहुत जरुरी है। , बच्चों को घर पहुंचने पर जो भी काम कर रहे हो उसे छोड़ कर बच्चें से निम्नलिखित विषयों पर बात करें (क) उसका दिन स्कूल में कैसे गुजरा उसकी बाते करें । (ख) बच्चें से रोज स्कूल के बारे में पूछे । (ग) उसके लिए उसका दिन का लक्ष्य तथा सप्ताह के लक्ष्य सैट करने में उसकी मदद करें ।(घ) ऐसे वार्तालाप को सकारात्मक तजूर्बे के रुप में लें ।(ड0) उसकी उपलब्ध्यियों के बारे में चर्चा करें । (च) उसके प्रयासों की प्रशंसा करें । , बच्चे को जो काम वह खुद कर सकता है उसे करने दें । सुबह तैयार होने में केवल उससे पूछ लें क्या मैं तुम्हारी मदद करुं । ऐसा करने से आत्म विश्वास पैदा होगा । , बच्चें द्वारा किये गये काम को आप दोबारा ना करें बल्कि बच्चे द्वारा किए गये काम की आप प्रशंशा करें । आपके ये शब्द, जादू जैसा असर बच्चे पर करेंगे । , बच्चें को अपनी समस्या का हल खुद निकालने दो आप केवल उस पर नजर रखें, ये उनके चरित्र निर्माण में मदद करेगी । , बदलाव के लिये बच्चें को चेतावनी जरुर दें समय या कार्यक्रम के बदलाव के लिए उसको पहले ही सचेत कर दें ताकि वह अपना काम जल्दी से कर लें । ,
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education