expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : क्राइम पर अंकुश लगाने के लिए मुस्तैद पुलिस, बिना देरी के मिलेगी पुलिस सहायता


पुलिस अधीक्षक रेवाड़ी के दिशानिर्देशानुसार सोमवार से यह योजना रेवाड़ी जिले में भी शुरू कर दी गई है

 

-उप-पुलिस अधीक्षक रेवाड़ी श्री अमित भाटिया ह०पु०से० को रेवाड़ी जिले में डायल 112 प्रोजेक्ट का नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया है।



पुलिस अधीक्षक रेवाडी ने बतलाया है कि डायल 112 इमरजेंसी रिस्पांस एंड सपोर्ट सिस्टम प्रदेश भर में सोमवार से शुरू हो गया है। अब अगर किसी को पुलिस की तत्काल सहायता की जरूरत है तो वह सीधे 112 नंबर पर कॉल कर सकता है। इस योजना के तहत पंचकूला में राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। निश्चित तौर पर डायल 112 के तहत एक ही नंबर पर आपातकालीन सुविधाएं मिलने से आम लोगों को काफी राहत मिलेगी।

अब पुलिस सहायता के लिए सीधे 112 करें डायल:

पुलिस सहायता लेने के लिए अब आमजन 112 नंबर डायल कर मदद लें। यह कॉल पंचकुला स्थित स्टेट कंट्रोल रूम से होकर सीधे तौर पर योजना को लेकर भेजी गई इनोवा गाड़ी में लगे ऑनलाइन वायरलैस पर जाएगी। इस दौरान पीडि़त जहां से बोल रहा है उसकी लोकेशन अनुसार जो भी गाड़ी नजदीक होगीवह तुरंत मौके पर जाएगी।

जिला रेवाड़ी में 12 थानों में दी गई दो-दो इनोवा गाडिय़ां:

जिला रेवाड़ी में 12 थानों में दो-दो इनोवा गाडिय़ां दी गई हैं। पुलिस विभाग के लिए डायल 112 प्रोजेक्ट एक क्रांतिकारी कदम है और इसके माध्यम से लोगों को आपात स्थिति में तत्काल पुलिस सहायता प्राप्त होगी। जिला में इस प्रोजेक्ट के बेहतर क्रियान्वयन के लिए प्रशिक्षित कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में प्रत्येक गाड़ी पर एक शिफ्ट में तीन पुलिस कर्मचारी लगाए तथा दो शिफ्ट में पुलिस कर्मचारियों की ड्यूटियां लगाई गई हैं।

कर्मचारियों को एक महीने पहले दी जा चुकी है ट्रेनिंग:

डायल 112 प्रोजेक्ट के तहत रेवाड़ी जिले में दो-दो इनोवा गाड़ियों सहित कुल 24 गाडियां दी गई हैं। इन सभी 24  इनोवा गाडिय़ों में तैनात पुलिस कर्मचारियों को एक महीने पहले ही डायल 112 के लिए प्रशिक्षण दिलाकर ही इन गाड़ियों पर तैनात किये गए हैं।

 

 

 

दुकान से मोबाईल फोन व नगदी चोरी करने के मामले मे एक और आरोपी को किया गिरफतार

थाना शहर रेवाडी के अन्तर्गत जगन गेट चौकी पुलिस ने दुकान से मोबाईल फोन व नगदी चोरी करने के मामले मे कार्यवाही करते हुए एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। गिरफतार किए गए आरोपी की पहचान रेवाड़ी के आनंद नगर निवासी रंजन उर्फ निरंकारी के रुप मे हुई है। जांचकर्ता ने बतलाया की शिकायतकर्ता संजय यादव निवासी घीसा की ढाणी ने पुलिस को अपनी शिकायत दी थी कि गत 16 जून को दोपहर करीब 3.00 बजे मेरी परचून की दुकान पर आंख लग गई। उस समय 2 युवक मेरी दुकान पर आए तथा मेरा मोबाईल फोन व 1000/- की नगदी चोरी कर ले गए। पुलिस ने शिकायतकर्ता की शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने जांच मे सी.सी.टि.वी. फुटेज व काल डिटेल के आधार पर आरोपियों का पता लगाकर मामले मे सलिंप्त एक आरोपी जितेन्द्र पुत्र ईश्वर निवासी नान्धा को पहले ही गिरफ्तार करके उसके कब्जा से चोरी किया गया मोबाइल फोन बरामद कर लिया था। मामले में सोमवार को आगामी कार्यवाही करते हुए पुलिस ने मामले में संलिप्त दूसरे आरोपी रंजन उर्फ निरंकारी पुत्र उमेश भारद्वाज निवासी आनंद नगर रेवाड़ी को गिरफ्तार करके उसके कब्जा से चोरी किये गए 1000/- रूपए बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने आरोपी से वारदात में इस्तेमाल की गई मोटरसाईकिल भी कब्ज़ा पुलिस में ले ली है।  

 

गाड़ी के टायर चोरी करने के मामले में एक और आरोपी गिरफ्तार

-दो आरोपियों को पुलिस पहले ही कर चुकी है गिरफ्तार

थाना कसोला पुलिस ने पिकअप गाड़ी के टायर चोरी करने के मामले में कार्यवाही करते हुए एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गए आरोपी की पहचान रेवाड़ी जिले के गाँव बोलनी निवासी मोहन के रूप में हुई है। जांचकर्ता ने बतलाया कि शिकायतकर्ता मंटू पुत्र श्री शिवशंकर निवासी गाँव सिरोही जिला संबल यूपी ने पुलिस में शिकायत दी थी कि मैंने व अजीत निवासी थानवास जिला महेन्द्रगढ ने सांझे में बर्फ फैकट्री खुशखेङा में कर रखी है। 15 जुलाई 2019 की रात को मैं और अजीत अपनी पिकअप गाड़ी में रेवाङी से खुशखेङा जा रहे थे कसौला चौक से आगे गढी बोलनी रोङ पर हमारी गाङी का संतुलन खराब होने से एक्सीडेन्ट हो गया। उस समय क्रैन वगैरा का प्रबन्ध ना होने से हम अपनी गाङी को वहीँ छोड़कर घर चले गए इसके बाद गत 17 जुलाई 2019 को हमने आकर देखा तो हमारी गाङी के केवल टायर ड्राईवर साईङ छोड़कर बाकी स्टेपनी सहित चार टायर नहीं मिले। पुलिस ने शिकायतकर्ता की शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। पुलिस ने मामले में कार्यवाही करते हुए दो आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार करके उनके कब्जा से चोरी किये गए गाड़ी के तीन टायर बरामद कर लिए थे। पुलिस ने मामले में आगामी कार्यवाही करते हुए सोमवार को मामले में संलिप्त तीसरे आरोपी मोहन पुत्र घनश्याम निवासी गाँव बोलनी जिला रेवाड़ी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को आज अदालत में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है।    

 

मोबाईल फोन पर अश्लील बाते करने व अश्लील धमकी देने के मामले मे एक और आरोपी गिरफ्तार

महिला थाना रेवाडी पुलिस ने युवती के फोन पर अश्लील बाते करने व अश्लील धमकी देने के मामले मे कार्यवाही करते हुए एक और आरोपी को गिरफतार किया है। गिरफतार किए गए आरोपी कि पहचान राजस्थान के जिला हनुमानगढ के गांव मलखेड़ा निवासी दलीप सिंह के रुप मे हुई है। जांचकर्ता ने बतलाया की रेवाडी की रहने वाली युवती ने अपनी पुलिस मे दी हुई शिकायत मे बतलाया है कि मेरा एक दोस्त है वह मेरे से सोशल मिडिया पर बात करता था। परन्तु कुछ दिन बाद वह मुझे व मेरी मां से फोन पर अश्लील बाते व अश्लली मैसेज भेजकर धमकी देता है। पुलिस ने युवती की शिकायत पर मामला दर्ज करके जांच शुरु कर दी थी। जाँच के दौरान पुलिस ने मामले में कार्यवाही करते हुए एक आरोपी को पहले ही गिरफ्तार करके उसके कब्जा से एक मोबाइल फोन कब्जा पुलिस में लिया गया था। मामले में आगामी कार्यवाही करते हुए पुलिस ने मामले में संलिप्त दूसरे आरोपी दलीप सिंह पुत्र पप्पूराम निवासी गाँव मलखेड़ा जिला हनुमानगढ़ राजस्थान को गिरफ्तार करके मैसेज भेजने में इस्तेमाल किया गया मोबाइल फोन कब्जा पुलिस में ले लिया गया है। 

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें