expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : राज्य बाल कल्याण परिषद चण्डीगढ़ के मानद महासचिव कृष्ण कुमार ढुल ने रेवाड़ी का दौरा किया

रेवाड़ी, 9 फरवरी। हरियाणा बाल कल्याण परिषद के महासचिव कृष्ण कुमार ढुल ने कहा है कि स्लम बस्ती व कम्पनियों में काम करने वाले श्रमिको के बच्चों को भी ओपन सैल्टर होम में शिक्षा प्रदान की जाएगी, ताकि यह बच्चें अपना जीवन उज्ज्वल बना सकें। उन्होंने कहा कि जो बच्चें स्लम बस्ती में रहते है उन्हें शिक्षित कर उनका दाखिला सरकारी स्कूलों में करवाने के लिए पहल करेगी।



हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद चण्डीगढ़ के मानद महासचिव कृष्ण कुमार ढुल मंगलवार को रेवाड़ी पहुंचे। यहाँ उन्होंने आस्था कुंज और वृद्ध आश्रम का निरिक्षण किया और सुविधाओं का जायजा लिया।  इस दौरान उन्होंने आस्था कुञ्ज में रह रहे बच्चो से बात की और उन्हें दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में भी जाना। निरिक्षण के बाद ढुल ने प्रैस कांफ्रेंस को सम्बोधित किया। कृष्ण कुमार ढुल ने बावल के मिनी बाल भवन का भी दौरा किया और यहाँ बने नवनिर्मित ओपन शेल्टर होम का उद्घाटन किया। पत्रकारों से बातचीत में ढुल ने कहा कि लगभग एक साल बीत गया था कोरोना के कारण कोई एक्टिविटी बाल भवन में नहीं हो पा रही थी। इस बार का बाल महोत्सव 2020 भी ऑनलाइन करना पड़ा था लेकिन फिर भी उन्हें फक्र है की ऑनलाइन पार्टिसिपेट होने वाला बाल महोत्सव कार्यक्रम अब तक का सबसे बड़ा वर्चुअल कार्यक्रम था जिसमे 4 लाख से अधिक बच्चो नेविभिन्न प्रतियोगिताओ में ऑनलाइन भाग लिया था। अकेले रेवाड़ी जिले से 23 हजार के करीब प्रतिभागियों ने भाग लेकर उत्कृष्ट प्रदर्शन किया जो काबिले तारीफ है। 



उन्होंने कहा कि अब चूँकि कोरोना लगभग समाप्त हो गया है और इसकी वैक्सीन भी लॉच होकर हर व्यक्ति तक पहुँच रही है स्कूल कॉलेज भी खुल गए है। ऐसे में अब बाल भवन में होने वाली गतिविधियों को भी धीरे-धीरे सुचारु किया जायेगा। ढुल ने इस उपलब्धि के लिए बाल भवन के स्टाफ के साथ प्रतिभागियों और मीडिया का आभार जताया जिन्होंने इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में नई एक्टिविटी कराने व नए प्रोजैस्क्टस चलाने पर विचार करेंगे। उन्होंने आस्था कुञ्ज और बाल भवन में हुए सुधार के लिए यहाँ के अधिकारियो की सराहना की। इस अवसर पर उनके साथ जिला बाल कल्याण अधिकारी वीरेंदर सिंह, नोडल अधिकारी अजमेर सिंह, कार्यक्रम समन्वयक अनिल मोरवाल और अकाउंटेंट प्रवीण कुमार के साथ आस्था कुञ्ज और बाल भवन के कर्मचारी उपस्थित रहे।



महासचिव कृष्ण कुमार आज बावल कस्बा में ओपन सैल्टर होम का उद्घाटन करने उपरांत लोगों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बाल कल्याण परिषद द्वारा बच्चों के उत्थान के लिए कार्य किया जा रहा है। परिषद का उद्देश्य बच्चों को कलां और प्रशिक्षण के माध्यम से आगे बढाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाल महोत्सव में रेवाडी जिला की भूमिका सराहनीय रही। इस बाल महोत्सव में रेवाडी जिले के 21 हजार 672 बच्चों ने भाग लेकर राज्य स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन कर जिले का नाम रोशन किया है। इसके लिए सभी बच्चे बधाई के पात्र है। उन्होंने बताया कि राज्य स्तर पर बाल महोत्सव में 4 लाख 96 हजार 850 बच्चों ने भाग लिया जिसमें 3 लख 50 हजार छात्राओं ने भाग लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नारे बेटी बचाओं-बेटी पढाओं का संदेश दिया। उन्होंने बताया कि राज्य स्तर पर भाग लेने वाले इन बच्चों के नाम गिनिज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज करने के लिए शिफारिश की गई है। कृष्ण कुमार ने आस्था कुंज पहुंचकर बच्चों व वृद्घाश्रम में रह रहे वृद्घों के लिए दिए जाने वाले भोजन की गुणवक्ता को भी जांचा। इस अवसर पर महासचिव कृष्ण कुमार ने बाल महोत्सव में भाग लेने वाले विजेता बच्चों को सम्मानित भी किया।


इससे पूर्व महासचिव कृष्ण कुमार ढुुल ने उपायुक्त यशेन्द्र सिंह से मिलकर रेवाडी में बाल कल्याण परिषद द्वारा चलाई जा रही गतिविधियों के बारे में जानकारी ली। डीसी यशेन्द्र सिंह ने बताया कि बाल कल्याण परिषद द्वारा कम्प्यूटर सैंटर, फैंशन डिजाईनिंग, कोचिंग सैंटर, बाल एवं त्वचा प्रशिक्षण केन्द्र, डिजीटल लाईब्रेरी, क्राफ्ट सैंटर, रूचिकर कक्षाए, विशिष्टï दत्तक ऐजेंसी, नशा मुक्ति केन्द्र, बावल में सिलाई केन्द्र चलाएं जा रहे है। कृष्ण कुमार ढुल ने जिला बाल कल्याण परिषद रेवाडी द्वारा किए जा रहे कार्यो की सराहना की। इस अवसर पर जिला बाल कल्याण अधिकारी विरेन्द्र यादव ने बाल कल्याण परिषद की आगामी योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस मौके पर पीओ संदीप कुमार, अजमेर गोदारा, अनिल मोरवाल, अशोक कुमार, धर्मबीर दहिया भी उपस्थित रहें।


Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें