expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pathargama News: विद्यालय प्रबंधन समिति के पुनर्गठन में बरती गई अनियमितता



ग्राम समाचार, पथरगामा:-  पिछले दिनों आदर्श राजकीयकृत मध्य विद्यालय पथरगामा में विद्यालय प्रबंधन समिति के पुनर्गठन में अविभावक पवन कुमार सिंह ने प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी तरुण कुमार घांटी को अभिभावक रंजीता देवी, अशोक पंडित, प्रमोद भगत, नरेश हरि, नकुल यादव, सरिता देवी आदि दर्जनाधिक ग्रामीणों के हस्ताक्षर युक्त आवेदन देकर अनियमितता बरतने का आरोप लगाया है।दिए गए आवेदन के अनुसार पवन कुमार सिंह का कहना है कि सहायक शिक्षक अनिल कुमार साह ने जबरन गलत तरीके से पवन कुमार सिंह की जगह अवनी कुमार भगत को प्रबंध समिति का अध्यक्ष बना दिया गया।जब भी अनिल कुमार साह काला डुमरिया विद्यालय में प्रबंधन समिति के पुनर्गठन कराने के लिए बतौर पर्यवेक्षक प्रतिनियुक्त किया गया था।पथरगामा के विद्यालय प्रबंधन समिति में 12 चयनित सदस्यों में इनका भी नाम है।ऐसे में सवाल यह उठता है कि जब काला डुमरिया में प्रतिनियुक्त है तो पथरगामा में मतदान कैसे किया।12 चयनित सदस्यों में से साथ में पवन कुमार सिंह के पक्ष में मतदान किया है।दूसरा सबसे बड़ा सवाल यह है बनता है कि जब पंचायत समिति को भंग कर दिया गया है तो ऐसे में वार्ड सदस्य को मतदान करने का अधिकार भी समाप्त हो जाता है।पर्यवेक्षक स्वीटी कुमारी ने पवन कुमार सिंह को विजेता घोषित कर दिया था परंतु उपरोक्त साजिश के तहत इसी विद्यालय के सहायक शिक्षक अनिल साह ने पवन कुमार सिंह की जगह अवनी कुमार भगत को अध्यक्ष घोषित कर दिया। लोगों का कहना है कि अध्यक्ष की घोषणा करने का अधिकार पर्यवेक्षक का होता है ना कि सहायक शिक्षक को? उधर उत्क्रमित मध्य विद्यालय सुंदर मोर के ग्रामीणों ने भी आवेदन देकर शिक्षक पर आरोप लगाया है कि ग्रामीणों के लाख विरोध करने के बावजूद शिक्षक ने वैसे व्यक्ति को विद्यालय प्रबंधन समिति का अध्यक्ष बना दिया गया जिसका बच्चा स्कूल में पढ़ता ही नहीं है।प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी अरुण कुमार घाटी ने कहा कि अभी मैं कार्यवस कार्यालय से बाहर हूं लौट कर आते ही जांचोपरांत कमेटी को भंग कर पुनर्गठन किया जाएगा। 

  -:अमन राज, पथरगामा:-


Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें