expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : आरपीएफ ने सिग्नल उपकरण बैटरी और चार्जर चोरी होने पर उपकरणों सहित चोरों को पकड़ा



नई अनाज मंडी रेलवे स्टेशन के यार्ड में सिग्नल उपकरण (जैसे बैटरी और चार्जर) की चोरी होने पर उपकरणों सहित चोरों को पकड़ा। जानकारी देते हुए रेवाड़ी आरपीएफ इंस्पेक्टर लक्ष्मण गौड़ ने बताया कि 3/4 जनवरी की रात को अज्ञात चोरों द्वारा रेलवे सिग्नल उपकरणों की चोरी होने के सूचना आरपीएफ रेवाड़ी को मिली सूचना पर मैं एवं आरपीएफ की  टीम ने तुरंत प्रतिक्रिया करते हुए घटनास्थल पहुंचकर जांच की और मुकदमा संख्या - 01/ 2021 के तहत मामला दर्ज किया। आरपीएफ इंस्पेक्टर लक्ष्मण ने बताया कि आरपीएफ के तुरंत  मौके पर पहुंचने के कारण ,पकड़े जाने के डर से चोर चोरी के सामान को दूर तक नहीं ले जा सके और  चोरी किये सभी सामान को नजदीकी सरसों के खेत के पास छुपा दिया। चोरी की जगह के आसपास क्षेत्र को आरपीएफ द्वारा सघन रूप से तलाश किया गया। सरसों के खेत में छुपाया हुआ कुछ चोरी का सामान आरपीएफ स्टाफ को दिखाई दिया तो पूर्ण विवेक से कार्य करते हुए आरपीएफ स्टाफ घात लगाकर बैठ गया। अगले दिन दिनांक 05 जनवरी को बारिश के दौरान  चोर चोरी किये सामान को लेने आए । घात लगाकर बैठी आरपीएफ टीम ने दोनों को तुरंत पकड़ लिया और पूरी सामान 32,500 रुपये की कीमत का सामान रेलवे संपत्ति बरामद किया। मौके पर पकड़े गए दोनों चोरी के शेख राजेश व शेख रिजावहुल है। आरोपी जो कि मूल रूप से पश्चिमी बंगाल के निवासी हैं, कूड़ा कचरा बीनने वाले हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में वे नई अनाज मंडी  स्टेशन के पास बंगाली बस्ती में रहते हैं। उन्होंने यह भी खुलासा किया है कि उन्होंने 27दिसम्बर 2020 को सिग्नल उपकरण चोरी किये है और इसे स्थानीय दुकानदार को बेच दिया था।दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया तथा माननीय अदालत से दो दिन की पुलिस हिरासत की मांग की गई।माननीय अदालत ने आरोपियों को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।आरपीएफ को इन दोनों से अन्य चोरियों के बारे खुलासा होने की उम्मीद है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें