expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Breaking News : भारत सरकार का चीन पर डिजिटल ट्राइक , 43 मोबाइल Chinese Apps पर लगाया बैन


ग्राम ,समाचार, नई दिल्ली। भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए 43 चीनी मोबाइल ऐप्स पर पाबंदी लगा दी है।  सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69ए (Section 69A of the Information Technology Act) के तहत सरकार ने 43 चीनी मोबाइल ऐप्स (43 Chinese Mobile Apps) पर बैन लगा दिया है।  ये ऐप्स ऐसी गतिविधियों में संलग्न पाए गए थे जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा हैं।  गृह मंत्रालय और साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर से प्राप्त व्यापक रिपोर्टों के आधार पर सरकार ने ये फैसला लिया है। 

प्रतिबंधित ऐप्स में चीन की दिग्गज IT कंपनी अलीबाबा ग्रुप के प्रमुख ऐप्स अली सप्लायर मोबाइल ऐप (AliSuppliers Mobile App), अलीबाबा वर्कबेंच (Alibaba Workbench), अलीएक्सप्रेस (AliExpress) और अलीपे कैशियर (Alipay Cashier) शामिल हैं।

भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर कई महीनों से जारी तनाव के बीच सरकार ने तीसरी बार चीन पर डिजिटल ट्राइक किया है. इससे पहले 29 जून को 59 मोबाइल ऐप्स और 2 सितंबर को सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69ए के तहत 118 और ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय का कहना है कि सरकार सभी मोर्चों पर भारत के नागरिकों, देश की संप्रभुता और अखंडता के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और यह सुनिश्चित करने के लिए सभी संभव कदम उठाएगी। 

केंद्र सरकार ने मंगलवार को 43 मोबाइल ऐप पर बैन लगा दिया। केंद्र ने इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट 69A के तहत ये बैन लगाया है। केंद्र ने बताया कि ये ऐप ऐसी गतिविधियों में लिप्त हैं, जिनसे देश की एकता, अखंडता, सुरक्षा के लिए खतरा हैं। बैन की गई ऐप्स में 14 डेटिंग ऐप्स हैं और ज्यादातर चाइनीज हैं। केंद्र ने यह फैसला इंडियन साइबर क्राइम को-ऑर्डिनेशन सेंटर की गृह मंत्रालय को भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर लिया गया है।

केंद्र ने 4 बार ऐप्स के खिलाफ एक्शन लिया

  • पहली बार सरकार ने 29 जून को यही कारण बताते हुए 59 चीनी ऐप्स बैन कर दिए थे। फैसला 15 जून को गलवान झड़प के बाद लिया गया था।
  • इसके बाद 27 जुलाई को भी 47 ऐप बैन किए गए थे। सरकार ने यह कदम तब उठाया था, जब लद्दाख में तनाव बढ़ रहा था और चीनी सैनिकों ने दो बार घुसपैठ की कोशिश की थी।
  • 2 सितंबर को सरकार ने पबजी समेत 118 ऐप्स को बैन किया था। पबजी को 17.5 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।
  • अब 24 नवंबर को एक बार फिर सरकार ने 43 मोबाइल ऐप्स बैन की हैं। देश की सुरक्षा और अखंडता के लिए इन्हें खतरा बताया गया है।

इन ऐप्स पर लगी पाबंदी - 

1. अली सप्लायर मोबाइल ऐप

2. अलीबाबा वर्कबेंच

3. अली एक्स्प्रेस-स्मार्ट शॉपिंग, बेटर लिविंग

4. अली पेय कैशियर

5. लालामूव इंडिया- डिलीवरी ऐप

6. ड्राइव विद लालामूव इंडिया

7. स्नेक वीडियो

8. कैम कार्ड- बिजने कार्ड रिडर

9. कैम कार्ड- BCR (वेस्टर्न)

10. सोल

11. चाइनीज सोशल- डेटिंग ऐप

12. डेट इन एशिया

13. वि डेड- डेटिंग ऐप

14. फ्री डेटिंग ऐप

15. एडोर ऐप

16. ट्रूली चाइनीज- डेटिंग ऐप

17. ट्रूली एशियप- डेटिंग ऐप

18. चाइना लव

19. डेट माइ ऐज

20. एशियन डेट

21. फ्लर्ट विश

22. गायज ओनली डेटिंग

23. ट्यूबिट- लाइव स्ट्रीम

24. वि वर्क चाइना

25. फस्ट लव लाइव 

26. रिला

27. कैशियर वॉलेट

28. मैंगो टीवी

29. एमजीटीवी

30. विटीवी- टीवी वर्जन

31. विटीवी- सीडीरामा

32. विटिवी लाइट

33. डिंग टॉक

34. आइडेंटिटी वी

35. आइसोलेंड 2

36. बॉक्स स्टार 

37. हीरोज इवोलवड

38. हैप्पी फिश

39. जैलीपॉप मैच

40. टाओबा लाइव

41. मंचकिन मैच

42. कॉन्क्विस्टा ऑनलाइन II

43. लकी लाइव

Share on Google Plus

Editor - Editor

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें