expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Jamtara News जामताड़ा पुलिस ने साइबर अपराधियों के खिलाफ मुहिम तेज कर दी है


ग्राम समाचार जामताड़ा:
रविवार (28 जून, 2020) की रात साइबर थाना पुलिस ने 5 शातिर साइबर अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. गिरफ्तार पांचों साइबर अपराधियों का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है. इस अपराध के जरिए इन पांचों ने अकूत संपत्ति अर्जित की है. दिलचस्प पहलू यह है कि गिरफ्तार साइबर अपराधियों में 2 पिता-पुत्र और 2 सगे भाई शामिल है. नारायणपुर थाना पुलिस के सहयोग से थाना क्षेत्र के मोहनपुर गांव में पुलिस ने छापेमारी कर 5 पेशेवर साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है. पुलिस विभाग की नजर इन साइबर अपराधियों की संपत्ति पर भी है, जिसे साइबर अपराध के जरिये अर्जित की गयी है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से मोबाइल, सिमकार्ड, एटीएम कार्ड, बाईक और मारुति वैन बरामद किया गया है.

पुलिस इस मामले को ईडी को भेजने की तैयारी कर रही है. यह खुलासा एसपी अंशुमन कुमार ने सोमवार (29 जून, 2020) को प्रेस कांफ्रेस के माध्यम से की. गिरफ्तार अपराधियों के पास से बरामद सामान
बीती रात हुई कार्रवाई में पुलिस टीम ने साइबर अपराधी 42 वर्षीय हीरालाल मंडल, 21 वर्षीय चंदन मंडल (दोनों पिता-पुत्र है), 40 वर्षीय भुनेश्वर मंडल, 29 वर्षीय निवास मंडल (दोनों सगे भाई है) तथा 25 वर्षीय कमलेश मंडल को गिरफ्तार किया है. इस दौरान पुलिस ने इनके पास से 7 मोबाइल फोन, 16 सिमकार्ड, 2 एटीएम कार्ड, 3 बाइक एवं एक मारुति वैन बरामद किया है. बरामद किए गए मोबाइल की प्रारंभिक जांच में साइबर अपराध के तहत फिशिंग के कई मामले सामने आये हैं. पुलिस इसकी गहराई से तफ्तीश कर रही है. एसपी ने बताया कि इन लोगों ने पूर्व में भी साइबर अपराध की घटना को अंजाम दिया है. और कई लोग जेल भी जा चुके हैं. वहीं, चंदन मंडल शातिर अपराधी है. उसने दिल्ली सहित अन्य राज्यों में भी साइबर अपराध की घटना को अंजाम दिया था।
अरविंद ओझा, ग्राम समाचार, जामताड़ा
Share on Google Plus

Editor - रोहित शर्मा, जामताड़ा

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें