Rewari News : भारतीय किसान यूनियन चढूनी की टीम ने अनंतराम तंवर से मुलाकात की



ग्राम समाचार न्यूज़ गुरुग्राम : भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) रेवाड़ी की टीम ने गुरुग्राम स्थित आवास पर जेजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तवंर से मुलाकात की जिसमे गाँव डुंगरवास, मसानी, खलियावास की एमआरटीएस परियोजना के लिए एचएसआईडीसी की तरफ से दो साल पहले अधिग्रहित की गई जमीन और उस पर बने स्ट्रक्चर का मुआवजा अभी तक नहीं देने के विरोध जताया गया है l जिलाध्यक्ष समय से ने नेता जी को बताया कि किसान मुआवजा न मिलने कि वजह से आत्महत्या करने कि स्थिति में आ चुके है उनकी आर्थिक हालत बिगड़ी हुई है। क्योंकि पहले भी भारतीय किसान यूनियन ने किसानो के साथ मिलकर सभी दिग्गज नेताओं केंद्रीय मंत्री भूपेंदर यादव, भाजपा केंद्रीय बोर्ड कि सदस्या डॉ. सुधा यादव, राज्य केबिनेट मंत्री बनवारी लाल केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत यादव समेत सभी स्थानीय प्रतिनिधियों और प्रशासन के सामने ज्ञापन के माध्यम से गुहार लगे चुके है। इतना सब करने के बावजूद चंडीगढ़ से मुआवजा को लेकर कोई स्थिति स्पस्ट नहीं है । 



किसान अब करो या मरो की स्थिति में आ चूका है। समय सिंह ने साथ ही HSIIDC के अधिकारियो के साथ मीटिंग कर स्पष्टीकरण देने का भी सुझाव दिया है ताकि किसानो को बताया जाये की मुआवजे में देरी की वजह क्या है। HSIIDC के नाम जमीन का इंतकाल जमने के बावजूद किसानो को उनका मुआवजा क्यों नहीं मिला है। जिलाध्यक्ष समय सिंह ने बताया कि तवंर जी ने इस मुद्दे को बड़ी गंभीरता से लेते हुए हमें आश्वासन दिया है कि जल्दी ही किसानो की HSIIDC के अधिकारियों के साथ मीटिंग कराई जाएगी और जल्द से जल्द इस समस्या का निवारण किया जायेगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष समय सिंह के साथ, महिला जिलाध्यक्ष , मुन्नी देवी महिला जिला महासचिव, रामेश्वर दयाल जिला महासचिव, रणबीर सिंह युवा महासचिव, दीपचंद जिलाप्रधान एक्ससर्विसमेन, वेदप्रकाश आदि मौजूद रहे।।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education