expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Godda News: बच्चे ईश्वर के अनमोल देन है- विकास चंद्र





ग्राम समाचार, गोड्डा ब्यूरो रिपोर्ट:-  आज दिनांक 20.04.2021 को जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा बोआरीजोर प्रखंड के सभी हितधारकों को ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से बाल विवाह उन्मूलन पर उन्मुखीकरण किया गया। इस कार्यक्रम में जिला स्तर पर बाल-विवाह उन्मूलन के लिए तैयार की गयी कार्य योजना के क्रियान्वयन हेतु विस्तृत जानकारी दी गयी। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य सभी संबंधित विभाग, संस्था एवं हितधारक को दायित्वबोध कराना था। यह कार्य योजना जिला बाल संरक्षण इकाई एवं यूनिसेफ के संयुक्त प्रयास से बनायी गयी है| जिला समन्वयक अमित कुमार ने बाल विवाह उन्मूलन कार्य योजना (डीआईपी) की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि बाल विवाह एक सामाजिक कुरीति है जो वर्षों से चली आ रही है, इसके उन्मूलन के लिए सभी की सहभागिता जरुरी है। बाल विवाह के लिए तैयार की गयी जिला स्तरीय कार्य योजना में सभी संबंधित विभाग, संस्था, हितधारकों को सम्मिलित किया गया है। संरक्षण पदाधिकारी विकास चंद्र ने पालना के विषय में जानकारी देते हुए कहा कि नवजात शिशुओं के प्रति हिंसा को रोकने के लिए गोड्डा सदर अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बोआरीजोर, सुंदर पहाड़ी और महागामा में पालना लगाया गया है, ताकि जो बच्चे का परित्याग करना चाहते हैं वे झाड़ियों में न फेंके, बच्चे ईश्वर के अनमोल देंन हैं, उन्हें पालने में रख जाएँ, उनकी पहचान नहीं ली जायेगी, बच्चे की देखभाल विभाग करेगी। संरक्षण पदाधिकारी विकास चंद्र ने बच्चों में मादक द्रव्यों के सेवन एवं तस्करी के रोकथाम पर चर्चा करते हुए कहा कि विद्यालय/शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में मादक द्रव्यों की बिक्री नहीं की जा सकती, विद्यालय के प्रहरी क्लब, चिल्ड्रन क्लब, विशेष शिक्षक, विद्यालय प्रबंधन समिति विद्यालय के 100 मीटर के दायरे ऐसे दुकानों को चिन्हित कर सूची प्रधानाध्यापक को देंगे, जिला शिक्षा पदाधिकारी के माध्यम से उपायुक्त महोदय को यह सूची यथोचित कार्रवाई हेतु उपलब्ध करायी जायेगी, समय समय पर राज्य,जोनल एवं केंद्रीय स्तर पर इसकी समीक्षा की जायेगी। यह एक्शन प्लान "नशामुक्त भारत" के महती लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एनसीबी एवं एनसीपीसीआर के द्वारा बनायी गयी। संराक्षण पदाधिकारी विकास चंद्र ने कोविड-19 के परिपेक्ष्य में लोगों को जागरूक करते हुए अनिवार्य रूप से मास्क, सोशल डिस्टैंसिंग एवं सुरक्षा के पर्याप्त उपाय करने कहा, अनावश्यक घर से बाहर परिवार के सदस्यों को न जाने की सलाह दी, पोष्टिक आहार विटामिन सी, डी और जेड, नींबू, संतरे, औषधीय वनस्पतियों के काढ़े का नियमित सेवन, गुनगुने पानी एवं नमक से दिन में 3-4 बार गरारे करने की सलाह दी, और कहा कि यदि सर्दी, खांसी, बुखार,सर दर्द, कंजंक्टिवाइटिस, गले में खराश आदि लक्षण दिखें तो तुरंत चिकित्सीय जाँच एवं उपचार करावें। विधि सह परिवीक्षा पदाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता ने जे जे एक्ट 2015, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम, पोक्सो आदि की विस्तृत जानकारी दी। जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी ने कहा कि इस कुप्रथा के अंत के लिए जनप्रतिनिधियों की भी भूमिका अहम है, सरकार द्वारा जारी निर्देशिका में ग्राम स्तर की बाल संरक्षण समिति में उन्हें सम्मिलित किया गया है। सभी संबंधित हितधारक को बाल-विवाह के उन्मूलन हेतु कार्य-योजना में वर्णित निर्देशों के अनुकूल कार्य करने कहा गया और कहा कि इस कुप्रथा के अंत के लिए सभी की सहभागिता अपेक्षित है। इस कार्यक्रम में बोआरीजोर के प्रखंड विकास पदाधिकारी सह बाल विकास परियोजना पदाधिकारी श्री धीरज प्रकाश, मुखिया- श्रीमती खांजु बीबी, श्रीमती फूलमती मरांडी, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी रितेश कुमार, विधि सह परिवीक्षा पदाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता, संरक्षण पदाधिकारी विकास चंद्र, ओम प्रकाश, परामर्शी वरुण कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता मुजफ्फर आलम, लेखापाल कृपासिंधु, यूनिसेफ-एक्शन ऐड के जिला समन्वयक अमित कुमार, जेएसएलपीएस के लाली मारिया, जीपीएफ- विजय कुमार, पंचायत सेवक- योगेंद्र पासवान, विजय कुमार रवानी, कुमोद मेहरा, मोजाहिद अनवर, विश्वनाथ ठाकुर, ग्राम सेवक- अब्दुल हलीम, किशोर झा, तेजस्वनी परियोजना के ब्लॉक कॉर्डिनेटर- संजय साहा, फील्ड कोर्डिनेटर- बीरबल मंडल, आंगनबाड़ी सेविका- संतोषिणी हेम्ब्रम, खुशबू रानी, हितधारक- राबिया खातून, शशिधर यादव, जसिंता हेम्ब्रम, महादेव पंडित, अजय प्रसाद साह, रेखा देवी, नरसिंह कापरी, लालजी सोरेन एवं अन्य उपस्थित हुए।

अमन राज:-

Share on Google Plus

Editor - भूपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें