expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Dumka News: पाटजोड़ के मंदिर में शुरू हुई बिशेष पूजा

 

रानीश्वर प्रखंड के पाठजोड़ गांव में पूजा करते श्रद्धालु

ग्राम समाचार, दुमका। रानीश्वर प्रखंड के पश्चिम बंगाल सीमा स्थित पाटजोड़ गांव में रविवार बांग्ला 13 भाद्र काफी उत्साह एबं धूमधाम के साथ आठ दिबसीय बिशेष पूजा शुरू हुई । यहां बिगत चार सौ बर्ष से भाद्र महीना में  श्री श्री राधाकांत ठाकुर के बिग्रह का पूजा आयोजित होती हैं।पूजा के अवसर पर यहा प्रत्येक दिन भंडारे का आयोजन होती हैं।मंदिर परिसर में आठ दिन हजारों श्रद्धालुओं का भीड़ उमड़ती हैं। पुरोहित देबाशीष घोषाल ने बताया हैं कि इस बार कोरोना संक्रमण की भयावहता को ध्यान ने रख कर पूजा में सामाजिक दूरी बनाकर गांव के कम संख्या के गरीबों के लिये दरिद्र नारायण सेबा आयोजित होगी। रविवार बीरभूम जिला के मोहम्मद बाजार से श्री श्री राधाकांत ठाकुर की बिग्रह को लाया गया हैं।घोषाल परिबार के सोमनाथ घोषाल एबं संजय घोषाल बिग्रह को यहां लेकर स्थापित किया हैं ।

मस्तक पर ठाकुर धारण किए श्रद्धालु

सोमवार बांग्ला 21 भाद्र को शोभायात्रा के साथ बिग्रह भांडीबोन संलग्न नवग्राम के मंदिर पंहुचायेगा ।देबाशीष ने बताया हैं कि चार सौ पचास साल के इतिहास के साथ जुड़ा हैं यहा के पूजा का इतिहास ।मयूराक्षी नदी तट पर एक मुनी का कुटिया होती थी। उस मुनी ने अपने कुटिया में श्री श्री राधाकांत ठाकुर एवं राधा रमन ठाकुर का बिग्रह स्थापित कर नित्य पूजा करते थे ।उसी मुनी ने यहां पाटजोड़ गांव के घोषाल परिवार के यहां आकर बिग्रह का पूजा आयोजन के लिये आग्रह किया था।उसी समय से यहा बिशेष पूजा आयोजित होती हैं। यहां गांव में घोषाल परिवार का एक प्राचीन मंदिर भी हैं, उस मंदिर में नित्य पूजा होती हैं ।

गौतम चटर्जी,ग्राम समाचार, रानीश्वर(दुमका)

Share on Google Plus

Editor - केसरीनाथ यादव, दुमका

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें