expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur News:एकेडमिक काउंसिल की बैठक में लिए गए कई अहम निर्णय

ग्राम समाचार, भागलपुर। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के लालबाग स्थित कुलपति के आवासीय कार्यालय में सोमवार को कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी की अध्यक्षता में विद्वत परिषद (एकेडमिक काउंसिल) की बैठक आयोजित हुई। बैठक में पूर्व प्रस्तावित एजेंडों पर सदस्यों से विचार-विमर्श के बाद सहमति बनी। बैठक में 23 जनवरी को आयोजित हुए संबंधन और नया शिक्षण कार्यक्रम समिति की बैठक के वृत को सदन के पटल पर रखा गया। विद्वत परिषद की बैठक में छात्र हित में प्राप्त आवेदन के आलोक में स्नातक स्तर पर 50 प्रतिशत सीट वृद्धि पर विचार किया गया। सीट वृद्धि मामले में एक कमिटी बनाने का निर्देश कुलपति ने दिया जो सम्यक विचार कर प्रतिवेदन समर्पित करेगी और तदुपरांत उसे राज्य सरकार को भेजा जाएगा। सीसीडीसी को इस कार्य के लिए अधिकृत किया गया। पाठ्यक्रम समिति द्वारा दो वर्षीय एमसीए कोर्स के लिए विशेषयों द्वारा तैयार नए सिलेबस (पाठ्यक्रम) की स्वीकृति दी गई। साथ ही इसके अलावे कई अन्यान्य कार्य सूची पर भी आम सहमति बनी। स्नातकोत्तर मनोविज्ञान विभाग की शिक्षिका डॉ लक्ष्मी पाण्डेय द्वारा समर्पित योगा और काउंसेलिंग से सम्बन्धित सेल्फ फिनांस डिप्लोमा कोर्स को शुरू करने पर विचार किया गया। यह पाठ्यक्रम स्ववित्त पोषित पाठ्यक्रम समिति द्वारा अनुशंसित है। विद्वत परिषद की बैठक में टीएनबी कॉलेज में इतिहास, राजनीति विज्ञान, समाजशास्त्र, अर्थशास्त्र और भूगोल विषय में पीजी की पढ़ाई शुरू करने पर सहमति बनी। अब इन विषयों में पीजी की पढ़ाई हो सकेगी। बैठक में एसएम कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डॉ रमन सिन्हा ने सदन में कहा कि उनके यहां कई विषयों में पीजी की पढ़ाई होती है ऐसे में कॉलेज को पोस्ट ग्रेड्यूट कॉलेज घोषित किया जाय। कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी ने इस पर अपनी स्वीकृति दी। कुलपति ने कहा कि जिन कॉलेजों में एक भी विषय में पीजी की पढ़ाई होती है वैसे कॉलेज पोस्ट ग्रेड्यूट मानक वाले कॉलेज कहलाएंगे। इसके अलावे डॉ रमन सिन्हा ने कहा कि विश्वविद्यालय स्तर पर पीजी के विभागाध्यक्षों के साथ होने वाली बैठकों में कॉलेजों में संचालित हो रहे पीजी के हेड को भी शामिल करने का अनुरोध किया ताकि संवाद और समन्वय बनी रहे। एसएम कॉलेज में कॉमर्स विषय में पीजी की पढ़ाई शुरू करने के प्राचार्य की मांग पर उसे अगली ऐकडेमिक काउंसिल की बैठक में रखने को कहा गया। मारवाड़ी कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डॉ गुरुदेव पोद्दार ने कुलपति को बताया कि उनके कॉलेज में मारवाड़ी समाज के द्वारा करीब 12 करोड़ की लागत से निर्मित महिला विंग बनकर तैयार है। जिसे चालू किया जा सकता है। कुलपति ने इसके लिए सभी संकायों के डीन और दोनों कॉलेज इंस्पेक्टरों की कमेटी बनाने का निर्देश दिया। ताकि कमिटी की अनुशंसा पर महिला विंग से सम्बंधित कार्रवाई की जा सकेगी। बैठक में कई अन्य एकेडमिक मुद्दों पर सहमति बनी। विद्वत परिषद की बैठक में रजिस्ट्रार डॉ निरंजन प्रसाद यादव, सीसीडीसी डॉ केएम सिंह, कॉलेज इंस्पेक्टर डॉ सरोज कुमार राय, प्रो. रंजना के अलावे सभी संकायों के डीन, पीजी विभागों के हेड और कॉलेजों के प्राचार्यों ने भाग लिया। बैठक के अंत में मारवाड़ी कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य के इसी माह सेवानिवृत्त होने पर उन्हें विद्वत परिषद की बैठक में विदाई भी दी गयी। कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी ने बुके भेंट कर डॉ गुरुदेव पोद्दार को सम्मानित किया। राष्ट्रगान से बैठक का समापन हुआ।


Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें