Sahibganj News; अंतरराष्ट्रीय नशा निवारण दिवस पर NSS ने की विचार गोष्ठी का आयोजन!

ग्राम समाचार, साहिबगंज।आज साहेबगज महाविद्यालय NSS द्वारा अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस पर ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विचार गोष्ठी काआयोजन किया गया।जिसमें नशा से मानव स्वस्थ पर हो रहे दुष्प्रभाव व बचाव हेतु विस्तृत वार्ता की गई।
                                                          एन एस एस कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ रंजीत सिंह ने कहा कि
आज युवाओं में नशे की लत बढ़ती जा रही है,जो राष्ट्रीय चिंता का विषय बना हुआ है।हमारा समाज स्वस्थ होगा तभी हमारा राष्ट  समृद्ध और आत्म निर्भर होगा।  
                                                            साहिबगंज महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ विनोद कुमार ने कहा कि
 मादक पदार्थों से ज्यादा  नशा वाली दवाओं का युवा  उपयोग कर रहे हैं। इसमें न समाज, न परिवार,न माता पिता को ही शक होता है और युवा इस लत में अपने जीवन को समाप्ति करने के कगार पर काफी आगे निकल जाते है ।
                                       साहिबगंज महाविद्यालय के कंप्यूटर तकनीकी शिक्षक प्रकाश रंजन ने कहा कि
नशा, एक ऐसी बीमारी है जो कि युवा पीढ़ी को लगातार अपनी चपेट में लेकर उसे कई तरह से बीमार कर रही है। शराब, सिगरेट, तम्‍बाकू एवं ड्रग्‍स जैसे जहरीले पदार्थों का सेवन कर युवा वर्ग का एक बड़ा हि‍स्सा नशे का शिकार हो रहा है।
                          दीपक  दास ने बताया कि लोग सोचते हैं कि वो बच्‍चें कैसे नशा कर सकते है जिनके पास खाने का भी पैसा नहीं होता। परंतु नशा करने वाले सिर्फ मादक पदार्थो की ही नहीं , बल्कि व्‍हाइटनर, नेल पॉलिश, पेट्रोल आदि की गंध, ब्रेड के साथ विक्स और झंडु बाम का सेवन कर, कुछ इस प्रकार का नशा भी करते हैं, जो बेहद खतरनाक होते है।
                           वहीं शिक्षक शशि  सुमन ने कहा कि यह थोथी दलील है कि नशा के बिना नींद नहीं आती है नींद के लिए शारारिक मेहनत करें योगा व अच्छी पुस्तकों को पढ़ें।नशे की लत ने इंसान को उस स्तर पर लाकर खड़ा कर दिया है जहाँ व्‍यक्‍ति  नशे के लिए जुर्म भी कर सकता है। 
                             एनएसएस स्वयंसेवक अमन कुमार होली ने कहा कि  शोधकर्ताओं के अनुसार हर वह चीज  जिसकी आपको लत लग जाए,वह नशे की श्रेणी में ही आता है।ऐसी ही कुछ आदतें हैं जिन्हें छोड़ना बेहद मुश्किल होता है जैसे - मादक पदार्थों के अलावा चाय, कॉफी, वर्तमान समय के नवीन यंत्र जैसे - विडियो गेम्‍स, स्‍मार्ट फोन, फेसबुक आदि का ज्‍यादा मात्रा में उपयोग भी नशे की श्रेणी में आते है।
                            आज के कार्यक्रम में नामिता, मधु लता, दीपिका कुमारी, क्रिस्टीना मरण्डी,नजरुल ,
अश्विनी कुमार ,फ़िरदौस तबसुम, मो शाहबाज आलम यशोवर्धन आदि दर्जनों  एनएसएस वॉलिंटियर्स ने अपने -अपने विचारों को रखा।
                                                                                      ।।ग्राम समाचार,साहिबगंज।।
Share on Google Plus

Editor - Gram smachar, sahibganj

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें