Bhagalpur News:दलित मुस्लिम एकता मंच के बैनर तले संविधान बचाओ देश बचाओ सभा का आयोजन, मंच से गरजे जाप नेता पप्पु यादव और कन्हैया


ग्राम समाचार, भागलपुर। जगदीशपुर प्रखंड स्थित पुरैनी के मैदान में दलित मुस्लिम एकता मंच के बैनर तले संविधान बचाओ देश बचाओ सभा को संबोधित करते हुए जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष भाकपा नेता कन्हैया कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि यह मोदी सरकार देश को अंग्रेजों तरह बांट रही है। जैसे अंग्रेज फुट डालो राज करो का फरमुला अपनाकर देश पर राज किया था। ठीक उसी तरह मोदी और अमित शाह हिंदू और मुस्लिम को लड़ा कर शासन करना चाह रहे हैं। उनकी यह मानस हम लोग कभी पुरी नहीं होने देंगे। उउन्हौंने कहा कि यह देश गांधी का है गोडसे का नहीं। हम लोग गांधी को मानने वाले हैं और गांधी के विचारधारा पर ही चलते रहेंगे। संविधान को किसी भी सूरत में छेड़छाड़ नहीं करने देंगे। संविधान बचाने के लिए हम लोग लड़ाई लड़ते रहेंगे। मोदी सरकार जब तक यह काला कानून वापस नहीं करेगी तब तक हम लोग आंदोलन जारी रखेंगे। हमलोगों को सावकर और जिन्ना को हराना है। गांधी, अंबेडकर और मौलाना अब्दुल कलाम आजाद को जिताना है। अगर आप लोग गांधी को मानने वाले हैं। पहले हम लोग सरकार का असहयोग करेंगे करेंगे फिर कहेंगे अगर तुम हम लोगों को अपना नागरिक नहीं मानते हो तो हम लोग भी सरकार को मानने के लिए तैयार नहीं हैं। अगर सरकार संविधान के मुताबिक इस कानून को वापस नहीं लेती है तो जिस प्रकार गांधी जी ने नमक आंदोलन छेड़ा था उसी तरह हम लोग इस सरकार के खिलाफ आंदोलन छेड़ेंगे। कन्हैया ने मंच पर आते ही बताया कि मेरी तबीयत खराब चल रही है फिर भी आपलोगों के प्यार के कारण मुझे आना पड़ा। तबीयत खराब होने के कारण उन्होंने अपना भाषण संक्षिप्त में ही दिया और अपना प्रसिद्ध नारा लेकर रहेंगे आजादी के साथ अपना भाषण को समाप्त किया। वहीं कन्हैया के जाने के बाद सभास्थल पहुंचे जाप नेता पप्पू यादव ने अपने संबोधन में मोदी, जोगी, अमित शाह और नीतीश पर हमला करते हुए कहां कि पहले तो नोटबंदी कर 16 हजार करोड़ का घोटाला किया। जब भी हमलोगों की सरकार बनेगी तो इस घोटाले को उजागर कर इन लोगों को जेल में बंद करवाएंगे। इस घोटाले को छुपाने के लिए मोदी सरकार कभी हिंदुस्तान-पाकिस्तान करते हैं, कभी तीन तलाक तो कभी लव जिहाद तो कभी हिंदू मुस्लिम अब सीएए, एनआरसी और एनआरपी लाकर लोगों को भटका रहे हैं। सर्जिल इमाम आतंकवादी नहीं है। आतंकवादी तो कश्मीर के डीएसपी देवेंद्र सिंह है। जिन्होंने कश्मीर में बारूद पहुंचाया और उसी बारूद से ही सेना की हत्या की गई थी। वहीं उन्होंने कहा कि अगर देवेंद्र सिंह मुसलमान होते तो इस मोदी सरकार ने पूरे देश के मुसलमानों का कत्लेआम करा देता। सरकार ने उसी देवेंद्र सिंह को दो राष्ट्रपति पुरस्कार दे दिया क्योंकि देवेंद्र सरकार का पोल खोलने वाला था। साथ ही उन्होंने कहा कि मोदी ने इजरायल के कहने पर यह सीएए और एनआरसी, एनआरसी कानून लाया है। इस कानून को इस देश की जनता नहीं मानेगी और जब तक सरकार यह कानून वापस नहीं लेती है तब तक देश की जनता इसका विरोध करते रहेगी। यह कानून देश की जनता का ध्यान भटकाने के लिए लाया गया है। एक ओर इस कानून से देश की जनता का ध्यान भटका कर एलआईसी जैसी मुनाफेदार कंपनी को सरकार बेच रही है जो कंपनी नेहरू जी ने तीन करोड़ में स्थापित की थी। आज के दौर में करोडों मुनाफा देने वाली कंपनी को बेची जा रही है। कन्हैया कुमार और पप्पू यादव ने एक मंच तो जरूर साझा किया लेकिन दोनों एक साथ मंच पर नहीं रहे। कन्हैया के जाने के बाद ही पप्पू यादव मंच पर पहुंचे। इस सभा का संचालन मौलाना आताउर रहमान ने किया। इसके अलावा इस सभा को राजद नेत्री राबिया खातून सहित दर्जनों वक्ताओं ने संबोधित किया। 
Share on Google Plus

About Bijay shankar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment