अचार खाने के यह 6 फायदे, शायद आपको पता भी नहीं होगा

ग्राम समाचार, नई दिल्ली।  नींबू, गाजर, टमाटर, प्याज, लहसुन, आंवला, कटहल, आम और न जाने क्या कुछ। बात अगर अचार की हो तो लिस्ट इतनी लंबी हो जाएगी कि पढ़ते-पढ़ते ही मुंह में पानी आ जाएगा। हालांकि अचार की ढ़ेरों क्वालिटी होने के बावजूद कुछ ही ऐसे अचार होते हैं जिन्हें प्रमुखता से खाया जाता है।

अचार कम ही मात्रा में सही पर हमारे खान-पान का महत्वपूर्ण का हिस्सा होते हैं। खट्टे, मीठे और तीखे स्वाद में उपलब्ध अचार भारतीय थाली के जायके को और अधिक बढ़ाने का काम करते हैं। कोई भी अचार मुख्य रूप से मसालों, सरसों के तेल, नमक और सिरके से ही तैयार होता है।

खाने के साथ अचार का एक या दो टुकड़ा एक ओर जहां खाने के स्वाद को दोगुना कर देता है वहीं ये स्वास्थ्य के लिहाज से भी फायदेमंद है। हालांकि अचार खाने के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि इसकी मात्रा संतुलित हो वरना ये खतरनाक हो सकता है।

आप अचार तो हर रोज खाते होंगे लेकिन अचार खाने के फायदे शायद ही आपको पता होंगा।

  1. गर्भावस्था के दौरान अचार खाने की क्रेविंग होती है। आम का अचार और नींबू का अचार खाने से सुबह के वक्त गर्भवती को होने वाली कमजोरी में राहत मिलती है।
  2. अगर आप वजन घटाने का हर तरीका आजमाते हैं तो एकबार ये तरीका भी आजमाकर देखिए। अचार खाने से वजन कम होता है। दरअसल, इसमें बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है। साथ ही इसमें मौजूद मसाले फैट को बहुत जल्दी टुकड़ों में बांट देते हैं।
  3. अचार में एंटी-ऑक्सीडेंट भरपूर होता है। जो शरीर को फ्री-रेडिकल्स से सुरक्षित रखने का काम करता है। ऐसे में अगर आप नियंत्रित मात्रा में इसका सेवन करते हैं तो ये काफी फायदेमंद है।
  4. कुछ शोधों की मानें तो मधुमेह में अचार खाना फायदेमंद होता है। सप्ताह में एकबार अचार खाना फायदेमंद रहेगा। मधुमेह के मरीजों को आंवले के अचार का सेवन करना चाहिए।
  5. अचार विटामिन K के अच्छे माध्यम होते हैं। ये विटामिन ब्लड क्लॉटिंग के लिए उत्तरदायी होता है। खासतौर पर चोट आदि लगने पर। अचार खाने का ये सबसे बेहतरीन फायदा है।
  6. अचार खाने से उपापचय की क्रिया भी सक्रिय रहती है और इसमें मौजूद फाइबर्स की मदद से पाचन क्रिया भी सुचारू बनी रहती है।

इन सब बातों के साथ ही ये जानना भी जरूरी है कि किन लोगों को अचार का सेवन नहीं करना चाहिए। स्ट्रोक या फिर दिल से जुड़ी बीमारी होने पर अचार के सेवन से परहेज करना चाहिए।