केंद्र सरकार के नए-नए कानून से आमजन परेशान : बजरंग दास गर्ग

ग्राम समाचार न्यूज़ कैथल {हरियाणा} :अखिल भारतीय व्यापार मंडल के राष्ट्रीय महासचिव व हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रान्तीय अध्यक्ष बजरंग दास गर्ग ने व्यापारियां से बातचीत करने के उपरान्त कैथल क्लब में पत्रकार वार्ता करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ऐसा बिल लाने जा रही है अगर बैंक दिवालिया हो जाता है तो जमाकर्ता के कितने भी रूपये जमा हो उसमें से उसे सिर्फ 1 लाख रूपये जमा करता को मिलेंगे। अगर केंद्र सरकार ऐसा कानून पास करती है तो देश की आम जनता बर्बाद हो जाएगी। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग दास गर्ग ने कहा कि अगर कोई भी बैंक दिवालिया हो जाता है तो आम जनता के रूपये जो बैंकों में जमा है उस रूपये का पूरा भुगतान केंद्र सरकार को करना चाहिए। देश का व्यापारी, किसान, कर्मचारी, मजदूर व आम जनता रात-दिन मेहन्त करके अपनी कमाई को बैंकों में जमा कराता है अगर जमा करता को रूपये वापस नहीं मिले तो वह बेघर हो जाएगा। गर्ग ने कहा कि कोई भी व्याक्ति बैंक में एफडी कराता है तो बैंक उसे 6.5 प्रतिशत ब्याज देती है अगर व्यापारी व्यापार करने के लिए बैंक से लोन लेता है तो बैंक उससे 13 प्रतिशत तक ब्याज लेती हैं। अगर कोई भी व्याक्ति बैंक में लेन-देन करे तो बैंक उस पर खर्चा लेता हैं। ऐसे में इस तरह का कानून बनाना तो दूर कि बात केंद्र सरकार को कानून बनाने के बारे में सोचना भी नहीं चाहिए जो कानून देश कि जनता के पूरी तरह खिलाफ हो। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग दास गर्ग ने कहा कि इंकम टैक्स में अब 2.5 लाख रूपये तक की छूट है कंद्र सरकार को उसे वार्षिक बजट में बढ़ाकर 5 लाख रूपये तक करनी चाहिए। ताकि आम जनता को राहत मिल सके। गर्ग ने कहा कि 1 जुलाई 2017 से देश में जीएसटी लागू होने के बाद केंद्र सरकार को पहले से ज्यादा राजस्व की प्राप्ती हुई है और इंकम टैक्स भी पहले से बहुत ज्यादा आया हैं। जबकि केंद्र सरकार ने जीएसटी टैक्स प्रणाली में आम उपयोग में आने वाली वस्तुओं पर 28 व 18 प्रतिशत टैक्स लगाकर जनता की कमर तोड़ दी हैं। उन्होंने कहा कि जिन वस्तुओं पर टैक्स कम था उस वस्तुओं पर जीएसटी में टैक्स बढ़ा दिया गया, जिन वस्तुओं पर टैक्स नहीं था जैसे की कपडा, चीनी, खेती में उपयोग आने वाली दवाई, खाद आदि अनेकां ऐसे वस्तुओं को जीएसटी के दायरे में लाकर टैक्स लगा दिया गया। जो पैट्रोल व डीजल देश के किसान, कर्मचारी, मजदूर, आम जनता के उपयोग में आता है जिस पर टैक्स व एक्साइज ड्यूटी दोनों मिलाकर 57 प्रतिशत टैक्स है उस पर टैक्स कम करके जीएसटी के दायरे में ना लाना जनता के साथ नाइन्साफी हैं। राष्ट्रीय महासचिव बजरंग दास गर्ग ने केंद्र व प्रदेश सरकार से देश के व्यापारी, किसान, कर्मचारी, मजदूर व आम जनता के हित में ज्यादा से ज्यादा सुविधा व राहत देने कि मांग की हैं। इस अवसर पर व्यापार मंडल जिला प्रधाप श्रवण गोयल, प्रदेश प्रचार मंत्री राजीव गुप्ता, हरियाणा आयल मिल प्रधान शिव नारायण गोयल, संगठन सचिव मोहन मित्तल, संरक्षक संजय गर्ग धूपवाले, कानूनी सलाहकार अशोक गोयल, संगठन मंत्री अशोक गोयल, सदस्य ओम प्रकाश भारती, राधे श्याम मसकपुरीया, युवा प्रधान राहुल सरार्फ, प्रवीन खुरानीया आदि व्यापारी नेता भारी संख्या में मौजूद थे।

Loading...