हृदय गति रुकने से कक्षा में ही शिक्षक की मौत

teacher diedग्राम समाचार कसबा (पुर्णिया)।  मध्य विधालय में पदास्थापित शिक्षक की हृदय गति रुकने से ईलाज के लिए ले जाने के क्रम में रास्तें में ही हो मौत हो गई। मंगलवार को घटना तब हुई जब शिक्षक बच्चों को पढ़ा रहे थे की इसी बीच वो चक्कर खाकर गिर पड़े थे ।

घटना के संबंध में जानकारी देते हुए कसबा में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी निभा पाल ने बताया कि कसबा के बरेटा पंचायत के मध्य विधालय बरेटा संथाल टोल में पदास्थापित शिक्षक मो. अब्दुल जलील की मौत हृदयगति रुकने के कारण ईलाज के क्रम में ले जाने के दौरान रास्ते में ही हो गई। मध्य विधालय बरेटा संथाल टोल में पदास्थापित शिक्षक मो. अब्दुल जलील मंगलवार को कक्षा में बच्चों को पढ़ा रहे थे की इसी बीच वो चक्कर खाकर गिर पड़े । आनन् फानन में अन्य शिक्षकों द्वारा उन्हें कसबा अस्पताल लाया गया । जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इस घटना के बाद पूरे शिक्षा विभाग में शोक की लहर दौड़ गई। स्थानीय बीआरसी भवन में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी निभा पाल की अध्यक्षता में एक शोक सभा आयोजित कर मृत शिक्षक को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। साथ ही प्रखंड के सभी विद्यालयों को बंद कर दिया गया । मृत शिक्षक पटना के दानापुर के शाह टोली के निवासी थे । वर्ष 2012 में इनकी नियुक्ति कसबा में हुई थी । मंगलवार को ही एम्बुलेंस से मृत शिक्षक को उनके पैतृक गांव भेजा गया है ।

शिक्षक के असामायिक मौत पर नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष सह पार्षद हसमत राही, भाजपा नेता मनोज मोदी, बमबम साह, मो.मुस्तफा, मो. जुबेर आलम, शिक्षक नेता एस रोहिस्तव उर्फ पप्पू ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि मृत शिक्षक काफी मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे । उनके मौत से शिक्षा विभाग ने एक एक अच्छे और सच्चे शिक्षक को खो दिया है ।

–  गौरव पंकज यादव,  ग्राम समाचार कसबा (पुर्णिया)

Loading...