झारखंड आंदोलन के प्रणेता न्यायमूर्ति एल पी एन शाहदेव की छठी पुण्यतिथि

SHAHDEV 1ग्राम समाचार, रांची। झारखंड आंदोलन के प्रणेता न्यायमूर्ति एल पी एन शाहदेव की छठी पुण्यतिथि मनाई गई। इस अवसर पर सूचना भवन के सामने स्थित जस्टिस एल पी एन शाहदेव चौक पर श्रद्धांजलि का कार्यक्रम रखा गया था। जस्टिस शाहदेव को श्रद्धांजलि देने मुख्यमंत्री रघुवर दास जस्टिस शाहदेव चौक पहुंचे। उन्होंने न्यायमूर्ति शाहदेव के चित्र पर माल्यार्पण किया और श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस अवसर पर न्यायमूर्ति शाह देव की पत्नी  प्रभा शाहदेव,  दामाद रतन कुमार, जस्टिस शाहदेव के पुत्र प्रतुल शाहदेव समेत परिवार के अनेक सदस्य भी उपस्थित थे।

पूर्व मुख्यमंत्री  अर्जुन मुंडा ने ने भी जस्टिस एल पी एन शाह देव चौक जाकर न्यायमुर्ति को श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस अवसर पर सांसद रामटहल चौधरी ने भी श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उन्होंने न्यायमूर्ति शाहदेव को झारखंड आंदोलन की अंतिम लड़ाई का नायक बताते हुए कहा झारखंड उनके योगदान को कभी नहीं भूल सकता। राम टहल चौधरी ने  कहा की न्यायमूर्ति शाहदेव की पहल के कारण सदान और आदिवासी कंधे से कंधा मिलाकर अलग राज्य के लिए संघर्ष किए थे ।

SHAHDEV 1

नगर विकास मंत्री सी पी सिंह ने न्यायमूर्ति शाहदेव को माटी का लाल बताते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में 16 राजनीतिक दलों के लोगों ने एक मंच पर आकर उनके नेतृत्व को स्वीकारा था। यह न्यायमूर्ति शाहदेव के अनुशासित  व्यक्तित्व और उनके लोकप्रियता का परिचायक था। आंदोलन के इस दौर में ‘पहले माटी फिर पार्टी’ की तर्ज पर हुए आंदोलन का नेतृत्व न्यायमूर्ति शाहदेव ने किया । रांची की मेयर  आशा लकड़ा ने भी न्यायमूर्ति शाहदेव को श्रधांजलि देते हुए कहा की न्यायमूर्ति शाहदेव झारखंड के सपूत थे जिन्होंने इस क्षेत्र से पहला न्यायाधीश बनने का गौरव प्राप्त किया।  उन्होंने अलग राज्य के आंदोलन को एक नई दिशा भी दिया।

 –  कुमुद रंजन, ग्राम समाचार रांची।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>