मोदी ने अपने सांसदों को 2019 का चुनाव जीतने का दिया मंत्र

modiग्राम समाचार, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने सांसदों को 2019 का चुनाव जीतने का नुस्खा दिया है। उन्होंने एक सांसद को पांच हजार की आबादी वाली बस्तियों में एक रात बिताने और एमएलए को ढाई हजार एवं काउंसलरों को दो हजार की आबादी वाली बस्तियों में रात बिताने को कहा है।

उन्होंने 11 अप्रैल से 5 मई तक देशभर में अनेक कार्यक्रम आयोजित करने और दलितों के अंदर से भाजपा के प्रति रोष खत्म करने के लिए दलित नेताओं का जन्मदिन मनाने को कहा है। उन्होंने सदस्यों को चेतावनी भी दी कि सोशल मीडिया पर अपनी उपस्थिति बढ़ाएं, नहीं तो अगले चुनाव के लिए टिकट मांगने मत आना।

भाजपा के नए मुख्यालय में शुक्रवार को पहली संसदीय दल की बैठक आयोजित की गई। अभी तक संसदीय दल की बैठक किसी हॉल या संसद भवन में होती थी, लेकिन पंडित दीनदयाल उपाध्याय मार्ग स्थित नई इमारत में एक हॉल काफी बड़ा है, जिसमें बैठने की क्षमता 500 लोगों की है।

बैठक में मोदी ने सदस्यों से कहा कि अपने चुनाव क्षेत्र में पांच-पांच हजार की बस्तियों का चयन कर लें और एक-एक रात वहां जरूर बिताएं। इसी तरह से विधायकों को ढाई हजार की आबादी वाली बस्तियों और पार्षदों को दो हजार की आबादी वाली बस्तियों की पहचान करने और उनमें एक-एक रात बिताने को कहा गया है। उनका मानना है कि लोगों के बीच रहकर नेता और पार्टी उनका विश्वास जीत सकती है। उन्होंने सरकार की कुछ योजनाओं का जिक्र किया, जिन्हें लोगों को बताना है। जैसे ‘‘आयुष्मान भारत’, ‘‘उज्ज्वला’ योजना, ‘‘स्वच्छ भारत अभियान’ आदि योजनाओं के बारे में लोगों को जागरुक करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्रों में ऐसे भी कार्यक्रम आयोजित करें, जिनमें हिंदू महिलाएं मुस्लिम महिलाओं को एकत्र करें और उन्हें तीन तलाक के बारे में जागरूक करें। प्रधानमंत्री ने सभी सदस्यों से कहा कि सोशल मीडिया पर अपनी उपस्थिति बढ़ाएं और मोदी एप पर भागीदारी करें। उन्होंने चेतावनी भी दी कि जिस सदस्य के सोशल मीडिया पर फॉलोअर कम होंगे, उन्हें टिकट नहीं दिया जाएगा।

इस बाबत बैठक में एक प्रजेन्टेशन भी दिया गया। बैठक में केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने एक प्रजेन्टेशन दिया, जिसमें 115 पिछड़े जिलों की पहचान की गई और उन जिलों के विकास पर ध्यान देने को कहा गया। आगामी 11 अप्रैल से लेकर 5 मई तक सभी सदस्य अपने क्षेत्रों में अनेक कार्यक्रम आयोजित करेंगे।