जिले के सभी भेंडरों को टैक्स जमा हर हाल में करनी होगी, नहीं करने पर बख्सा नहीं जायेगा-डीसी

पाकुड़। समाहरणालय सभाकक्ष में जिला प्रशासन के द्वारा मंगलवार को मासिक पत्रकार सम्मेलन का आयोजन किया गया।

इस पत्रकार सम्मेलन में डीसी दिलीप कुमार झा के आलावें एलरडीसी परितोष ठाकुर, डीआरडीए निर्देशक सुनील कुमार, डीएसपी नवनीत हेम्ब्रम, जिला कृषि पदाधिकारी मिथिलेस कालिंदी, सिविल सर्जन एनके मेहरा, खनन पदाधिकारी सहित सभी विभाग के अधिकारी के प्रेसवार्ता में शामिल थे।

डीसी दिलीप कुमार झा ने बताया कि पत्थर खदान के कुल 246 का खनन पट्टा है जिसमे से 104 लीज कर चालु है।137 खनन पट्टों को ईसी, 183 पत्थर सीटीई, 174 पत्थर खनन पट्टों में सीटीओ, 142 पत्थर खनन पट्टों पर्यावरणीय स्वच्छता नही रहने के कारण बन्द है। इसके अतिरिक्त 198 डीलर्स लाइसेंस निर्गत हैं जिसमे 116 क्रसर चालू है। डीसी दिलीप कुमार झा ने बताया जिले के सभी भेंडरों को 22 करोड़ रुपया टैक्स जामा नहीं किया गया है। सभी भेंडरों अगर जमा नहीं करते है तो उस पर क़ानूनी कार्रवाई किया जायेगा। खनन विभाग को इस सम्बन्ध पर जाँच कर प्राथमिकी दर्ज करने निर्देश दिया गया है। किसी भी सूरत पर भेंडरों को लापरवाही बर्दास्त नहीं किया जायेगा। डीआरडीए निदेशक सुनील कुमार ने बताया कि झारखंड सरकार की महत्वपूर्ण महोत्वकांक्षी योजना वन बन्धु कल्याण योजना आज के तारीख में कोई काम नहीं चल रहा है। सरकार का सख्त निर्देश है की एक दिन में एक हजार शौचालय को बनाना है लेकिन जिले में प्रतिदिन 500 शौचालय बना जा रहा है। डीएसपी मुख्यालय नवनीत हेंब्रम ने बताया कि जिले सभी थाने में जितने भी गबन मामलें प्राथमिकी दर्ज किया गया है उस पर कार्रवाई किया जायेगा। डीसी दिलीप कुमार झा ने बताया कि मनरेगा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, शौचालय में अपेक्षित सफलता नहीं मिला है। जल्द ही सफलता मिलेगी। शहर में विधि व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस हमेश प्रयासरत है। जिले के सभी प्रखंड में जितने भी प्रधानमंत्री आवास योजना सहित अन्य योजना में बंगला ईट का प्रयोग नहीं करने का निर्देश दिया गया। डीसी ने सभी अधिकारी को कहा की किसी भी प्रकार की लाहपरवाही बर्दास्त नहीं किया जायेगा। लापरवाही बरतने वाले को क़ानूनी कार्रवाई किया जायेगा।

    – विनोद कुमार, ग्राम समाचार, पाकुड़, ब्यूरो, झारखंड।

Loading...