महिलाओं से सुझाव लेकर नीति बनाएगी सरकार : रॉकी मित्तल

ग्राम समाचार न्यूज़ : रेवाड़ी (हरियाणा) : एक ओर सुधार कार्यक्रम प्रोजेक्ट के डायरेक्टर रॉकी मित्तल ने कहा कि महिला सुरक्षा की दृष्टि से हरियाणा सरकार ने राज्य के सभी जिलों में एक और सुधार कार्यक्रम आयोजित करके महिलाओं के सुझाव जानने के लिए यह अभियान चलाया हुआ है। कार्यक्रम में जो महिलाएं अपने सुझाव देंगी उनकी रिकॉर्डिंग कर उसे मुख्यमंत्री के सामने प्रस्तुत किया जाएगा। मित्तल रविवार को बाल भवन रेवाड़ी में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा प्रदेश में चलाए जा रहे महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम एक और सुधार में महिलाओं को संबोधित कर रहे थे। इस कार्यक्रम में जिले की महिलाओं ने बढ़्चढकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और कई महिलाओं ने बेबाकी से महिलाओं के साथ समाज में हो रही अमानवीय घटनाओं व यातनाओं के बारे में विस्तार से बताया और अपने-अपने सुझाव भी दिये। प्रोजेक्ट डायरेक्टर रॉकी मित्तल ने सभी महिलाओं को आश्वासन दिलाया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री एक और सुधार कार्यक्रम के माध्यम से सभी वर्गों के उत्थान के लिए कार्य कर रहे हैं। समाज में महिलाओं के उत्पीडऩ पर अंकुश लगाने के लिए एक ओर सुधार कार्यक्रम चलाया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से समाज की सभी वर्गों की महिलाएं व पुलिस के बीच सीधा संवाद किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस संवाद के लिए वह 16 जिलों में कार्यक्रम कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि महिलाओं में इसके लिए जोश है और महिलाएं निसंकोच होकर अपनी बात कह रही है और उनकी सभी बातों को वीडियों के माध्यम से रिकार्ड किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य महिलाओं से सुझाव लेकर प्रदेश सरकार द्वारा उसे लागू करना है। मित्तल ने कहा कि महिलाओं का आत्मविश्वास बढऩे से वे समाज में मजबूत होकर उभरेगी तथा उनकी भावनाओं की कद्र होगी। वे अपनी प्रजाति को प्रताडि़त करने की बजाए ऐसी परिस्थितियां पैदा करें कि छेडख़ानी की घटनाओं पर पूर्ण रूप से अंकुश लगे। रेवाड़ी जिला की 62 महिलाओं ने इस कार्यक्रम में अपनी बात रखते हुए अपने सुझाव दिए, कॉलेज की छात्राओं ने बताया कि उन्होंने अपने जो व्ट्सएप गु्रप बनाए हुए हैं उनमें महिला पुलिस निरीक्षक का नंबर भी हो ताकि कोई घटना हो तो तुरंत उनके पास मैसेज चला जाए, लडक़ी की सगाई 18 वर्ष से पहले न हो, पुलिस स्टेशन में एक और हेल्प लाईन की सुविधा हो, थाने में फोन रिसीव करने वाले को प्राईवेट कंपनियों की तरह मैनर सीखाएं जाएं, स्कूल में छात्राओं को आत्मरक्षा के लिए जूड़ो कराटे सीखाए जाएं, स्कूलों में अच्छे संस्कार दिए जाएं, अच्छे कार्य करने वालों को प्रोत्साहित किया जाए, महिला व पुरूष के बीच झगड़ा हो तो पुलिस स्टेशन में पूछताछ के समय उसकी वीडियोग्राफी हो आदि अनेक सुझाव महिलाओं ने इस कार्यक्रम में रखें।
इस कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक संगीता कालिया, उप पुलिस अधीक्षक सतपाल, सुरेश हुड्डा, गजेन्द्र सिंह, उप जिला शिक्षाधिकारी चन्द्रप्रकाश, पीओआईसीडीएस लता शर्मा, एसएमओ सरोज रंगा, एडीसी कार्यालय के एपीओ आफताब सहित अनेक महिलाएं उपस्थित थीं।