15 साल तक के बच्चें एमआर वैक्सिन का टीका अवश्य लगावायें- एसडीएम

ग्राम समाचार न्यूज़ : रेवाड़ी (हरियाणा) : उपमण्डल अधिकारी ना. कुशल कटारिया ने कहा है कि खसरा व रूबेला की बिमारी के बचाव के लिए 15 साल तक के बच्चों को एमआर अभियान के तहत वैक्सिन टीकाकरण किया जाएगा तथा इस अभियान में कोई भी बच्चा टीके से वंचित न रहे इसके लिए कारगर कदम उठाए जाए तथा इसका प्रचार-प्रसार किया जाए कि इसका कोई साईड ईफैक्ट नहीं है। एसडीएम कुशल कटारिया सोमवार को जवाहर नवोदय विद्यालय नैचाना में शिक्षा विभाग के अधिकारियों व बच्चों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि जिले में यह प्रोग्राम अप्रैल और मई माह में चलाया जाएगा जिसमें पहले दो सप्ताह तक सभी स्कूलों में एमआर वैक्सिन का टीकाकरण 15 साल तक के बच्चों या दसवीं कक्षा में पढ रहे बच्चों का स्कूल में ही टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा इसके पश्चात अगले दो सप्ताह तक सभी आंगनवाडी कार्यकर्ताओं के साथ गांव में सत्र लगाकर सभी 15 साल तक के बच्चों को टीकाकरण किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि यह टीका बच्चों को खसरा और रूबेला से बचाव करेगा।  इस एमआर वैक्सिन का कोई साईड ईफैक्ट नहीं है तथा यह पूर्ण रूप से सुरक्षित है। उन्होंने बताया कि रूबेला एक गम्भीर वायरल बिमारी है जिसकी वैक्सिन अभी तक नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल नहीं थी अब सरकार ने निर्णय लिया है कि एमआर अभियान के दौरान सभी बच्चों को एक बार एमआर वैक्सिन देने के बाद इसे नियमित टीकाकरण में शमिल कर लिया जाएगा। रूबेला के कारण नवजात शिशुओ में जन्मजात विकृतिया जैसे कि दिल की बिमारी, मोतियाबिंद, मानसिक विकास में कमी आदि बिमारियां हो जाती है। एसडीएम ने स्कूल का निरीक्षण भी इस मौके पर किया।
Loading...