हाईवे पर अपराधों को रोकने व सडक हादसों मे घायलों को मदद मुहैया कराने के उद्देश्य से नई कार्ययोजना तैयार : SP

ग्राम समाचार रेवाड़ी (हरियाणा) : पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल द्वारा हाईवे पर अपराधों को रोकने व सडक हादसों मे घायलों को तुरन्त मदद मुहैया कराने के उद्देश्य से नई कार्ययोजना तैयार की गई है। दुग्गल द्वारा दिल्ली-जयपुर हाईवे पर कापडीवास बार्डर से जयसिंहपुर खेडा बार्डर तक छह सब टैफिक बूथ स्थापित किए गए है। इन बूथों पर 18 जवानों की ड्युटी दिन मे व 18 जवानों की ड्युटी रात के समय रहेगी। मंगलवार 12 जून को दक्षिण रेंज के आइजी डा. सीएस राव द्वारा हाईवे पर बनाए गए सब टेफिक बूथों का धारूहेडा पुलिस स्टेशन के नजदीक बनाए गए बूथ से उद्घाटन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त दुग्गल ने शहर मे भी महिला स्कूल, कालेज व अन्य सार्वजनिक स्थान जहां महिलाओं का आना जाना लगा रहता हो, के लिए महिला राइडरों की तैनाती की गई है। जानकारी देते हुए दुग्गल ने बताया कि पुलिस का उद्देश्य हाईवे पर अपराधों मे कमी लाना व घायलों को तुरन्त मदद मुहैया कराना है घायलों को समय पर प्राथमिक उपचार मिलने से जान बचाई जा सकती है। इसके लिए जिला की सीमा मे हर सात-आठ किलोमीटर की दूरी पर एक बूथ स्थापित किया गया हैं इन बूथों पर 36 प्रशिक्षित पुलिसकर्मियों की ड्युटीया लगाई है। हर बूथ पर तीन पुलिसकर्मी रात को व तीन दिन के समय तैनात रहेंगे। मदद के लिए उन्हें सरकारी नंबर भी दिए गए है। हाईवे पर मदद के लिए 7419757501, 7419757502, 7419757503, 7419757504, 7419757505, 7419757506 पर संपर्क कर सकते है। ये पुलिस राइडर पूरी तरह प्रशिक्षित व सभी सुविधाओं से लैस रहेंगे तथा घायलों को मौके पर ही प्राथमिक उपचार देकर जान बचाने मे कारगर साबित होगे। इसके अलावा उन्होने बताया कि महिला विरूध अपराधों मे कमी लाने व महिलाओं की मदद के लिए पांच महिला राईडर भी शहर मे तैनात की जाएगी। ये महिला राइडर महिला कालेज, कन्या स्कूल व ऐसे सार्वजनिक स्थान जहां महिलाओं को आना जान लगा रहता हो पर मौजूद रहेंगी। कोई भी महिलाएं मदद के लिए 7419757507, 7419757508, 7419757509, 7419757510, 7419757511 पर संपर्क कर सकती है। सूचना मिलते ही महिला राइडर मदद के लिए तुरन्त मौके पर पहुंचेगी।

Loading...

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>