डिजीटल सातबारा के लिये अकोला शहर के किसान परेशान, महा- ऑनलाईन व महाभुलेख का ‘ सर्वर डाऊन ‘

gram samachar logoग्राम समाचार अकोला (महाराष्ट्र)। गतिमान प्रशासन का प्रचार , प्रसार करनेवाले राज्य सरकार के खस्ता नियोजन से किसानों को आठ दिनों से डिजीटल सातबारा प्राप्त करने में मुश्किल हो रही है। महा ऑनलाईन, महाभुलेख व सेतु सेवा केंद्र से ऑनलाईन सातबारा न निकलने से किसानो को सातबारा के लिये परेशानियों का सामना करना पड रहा है।

महा-ऑनलाईन व महाभुलेख का सर्वर डाऊन होने की वजह से सातबारा मिलना मुश्किल हो  रहा है। बताते चलें कि  सातबारा  किसानों के खेती का महत्वपुर्ण दस्ताएेवज है। किसानों को उनके गाव में अथवा कहीं भी ऑनलाईन सातबारा उपलब्ध होना चाहीये। तलाठी कार्यालय में जाने आने की दिक्कते बंद हो। दस्ताऐवज में  गलतीयां रोकने के उद्देश्य से शासन द्वारा सातबारा डिजीटल किया गया है।

केंद्र शासन के डिजीटल इंडिया लेन्ड रेकार्ड मॉडर्नायझेशन प्रोग्राम का भी एक हिस्सा है किंतु विगत दस दिनों से किसानों को यह महत्वपुर्ण दस्ताऐवज के लिए  परेशान होना पड़ रहा है। डिजीटल सातबारा मिलने के लिये सेतु केंद्र में पहुचने वाले किसानों को सातबारा दिया नहीं जाता।

महा ऑनलाईन व महाभुलेख की वेबसाईट सुबहा 10 बजे से शाम 5 बजे तक डाऊन रहने से किसानों को सेतु केंद्र से व वेबसाईट पर से सातबारा मिलने के लिये मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा हैं। विगत दस दिनो से दोनों भी संकेत स्थल का सर्व्हर डाऊन होने से यहां समस्या निर्माण होने का अकोला के सेतु केंद्र सचांलक व महा ऑनलाईन के व्यवस्थापक द्वारा बताया जा रहा है। किंतु इस उलझन में किसानों को बिना वजाहा परेशान होना पड रहा है।

– शब्बीर खान शौकत खान , ग्राम समाचार दहिहांडा (अकोला, महाराष्ट्र)।