सुपौल में शहीद जगदेव प्रसाद की जयंती, नीतीश सरकार पर जम कर बरसे पप्पू यादव

Rajesh Ranjan_Pappu Yadavग्राम समाचार, सुपौल। बिहार के सुपौल जिला मुख्यालय में मंगलवार को शहीद जगदेव प्रसाद की जयंती मानाई गई जिसमें जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने भाग लिया।

शहीद जगदेव प्रसाद की जयंती दिवस पर जन अधिकार पार्टी द्वारा छह सूत्री मांगों के समर्थन में जिला मुख्यालय पर एक दिवसीय धरना का भी आयोजन किया गया जिसे पार्टी के राष्ट्रीय संरक्षक सह सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने संबोधित किया। इस अवसर पर सांसद बिहार के सत्ताधारी नीतीश सरकार पर जम कर बरसे। पप्पू यादव ने कहा कि,  नीतीश-लालू के राज में आये दिन हत्या, लूट, बलात्कार आदि आम बात हो गई है। उन्होंने आंकड़ा देते हुए कहा कि- “सरकार बनने के तीन महीने बाद अब तक बिहार में लगभग 575 हत्या हो चुकी है। नीतीश के विधायक घर से नाबालिग को उठा दुष्कर्म करते हैं तो उन्हीं के विधायक ट्रेन में महिलाओं के साथ छेड़खानी व बदतमीजी करते हैं”।

ज्ञापन की मुख्य मांगे

  1. बिहार में पूर्ण शराबबंदी हो।
  2. बिहार में कपड़ा व्यवसायी के उपर लगे कर की घोषणा वापस हो।
  3. बिहार में आए दिन हो रहे हत्या, लूट, बलात्कार को रोक कानून के शासन का एहसास आमजन को कराया जाए।
  4. फसल कटने से एक माह पूर्व गांवों में क्रय केन्द्र खोला जाए।
  5. पीएचसी में चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित करवायी जाए।
  6. भपटियाही प्रखंड के बनैनियां एवं ढ़ोली पंचायत के विस्थापितों को बांध के बाहर भूमि एवं इंदिरा आवास देकर पुर्नस्थापित किया जाए।

सांसद ने कहा कि, पूरे बिहार राज्य में  कानून-व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। नीतीश कुमार ने महिलाओं को सुरक्षा देने और शराबबंदी करने का वादा किया था और अब ठीक उल्टा काम कर रहे हैं।

अपने पार्टी की नीति के बारे में उन्होंने कहा कि, जन अधिकार पार्टी शराबबंदी के मामले को ले पूरी तरह सजग है। पंचायत चुनाव के बाद जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता कहीं भी शराब दुकान चलने नहीं देंगे। बिहार में कहीं भी शराब की दुकान खोलने नहीं दी जाएगी।

कोसी क्षेत्र की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि- पूरे कोसी क्षेत्र को लूट का अड्डा बना दिया गया है, जो भी पैसा केन्द्र सरकार से आता है वह नेताओं और बाबूओं की भेंट चढ़ जाता है।

उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि उन्होंने इस मुद्दे कई बार सीबीआई जांच की मांग की है। उनहोंने प्रधानमंत्री को इस संबंध में पत्र लिख कर इन बातों से अवगत भी करा दिया है।

जनवितरण प्रणाली के संबंध में उन्होंने कहा कि- पीडीएफ सिस्टम गरीबों के निवाले से जुड़ा मामला है। इस दिशा में सबको सजग होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि- आज बिहार में कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य बदहाल स्थिति में है। इसमें सुधार की जरूरत है। इसके लिए हम सब को आगे आना होगा। जो ताकत जनता में है, वह किसी में नहीं है। यह ताकत दुनिया बदलने के लिए काफी है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से जोश-खरोस से भ्रष्टाचार का प्रतिकार करने की बात कही।

Pappu yadav_Supaul

समारोह का आयोजन जगदीश प्रसाद यादव की अध्यक्षता किया गया जिसमें पूर्व विधायक अमला देवी, सरायगढ़-भपटियाही के प्रखंड प्रमुख विजय यादव, प्रो.रमेश प्रसाद यादव, गगन ठाकुर, श्याम यादव, संतोष कुमार यादव आदि ने भी संबोधित करते हुए नीतीश सरकार के क्रियाकलाप की भ‌र्त्सना की।

एक दिवसीय धरना में मो.सादाब रजी, बिट्टु कुमार यादव, विशाल कुमार, विनीत कुमार, त्रिभुवन कुमार, कुन्दन कुमार, मो. एकबाल, ललन कुमार, राजीव कुमार सिंह, पंकज कुमार यादव, मंगल प्रसाद यादव, शिवकुमार यादव, मो. ताज उद्दीन खां, शरद कुमार भगत, सुरेन्द्र प्रसाद यादव,ओम प्रकाश विश्वास, यशवंत कुमार सक्सेना सहित जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद थे। धरना उपरांत छह सूत्री मांगों का एक ज्ञापन राज्यपाल बिहार के नाम संबोधित जिलाधिकारी को समर्पित किया गया।

– आलोक चौधरी, ग्राम समाचार सुपौल।