शर्मनाक! दहेज के लिए नवविवाहिता की हत्या कर शव को दफनाया, नामजद प्राथमिकी दर्ज

– रजौन(बांका)/संवाददाता।

रजौन/ बांका : जिले के रजौन थानाक्षेत्र अंतर्गत मंझगांय-डरपा पंचायत के रूपसा गांव में दहेज नहीं मिलने पर ससुरालवालों ने विगत चार दिन पहले नवविवाहिता की हत्या कर शव को दफना दिया गया. मृतका सरोगी यादव की पुत्री रूबी कुमारी हैं. नवविवाहिता की हत्या कर शव को गायब करने का आरोप हैं.

इसी बीच मृतका के मायके वाले पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया. घटना की सूचना पर पहुंची रजौन थाना की पुलिस ने मृतका रूबी कुमारी के भैंसूर को गिरफ्तार कर लिया गया तथा पुलिस की भनक मिलते ही पति और सास फरार हो गया.

रजौन थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद ने बताया कि मृतका के पिता सरोगी यादव के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई हैं. जिसमें मृतका के पति,सास व भैंसूर को आरोपित किया गया हैं. भैंसूर को गिरफ्तार कर लिया गया हैं. वहीं अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही हैं.

मृतका के पिता सरोगी यादव मूलरूप से कनेरी, जगदीशपुर,भागलपुर के निवासी हैं. मृतका के भाई गोपी यादव ने बताया कि विगत चार दिन पहले रामनवमी के अवसर पर मेला देखने मेरी बहन,बहनोई और भांजी कनेरी गांव आई थी लेकिन पुन: वापस रूपसा चली गई. मृतका की 02 वर्ष की एक मासूम बच्ची भी हैं.

मृतका के पिता सरोगी यादव ने बताया कि दहेज मामले की जब मुझे जानकारी मिली तो मैं स्वयं रूपसा गांव अपनी बेटी से मिलने गया तब उपरोक्त लोगों ने बताया कि आपकी बेटी जहर खाकर आत्महत्या कर ली हैं जिसका हमलोगों ने दाह-संस्कार कर दिया हैं. जबकि मेरी बेटी की हत्या 16-04-2019 को कर दी गई हैं. और मुझे ससुरालवालों ने 20-04-2019 को जानकारी दी की आपकी बेटी की तबियत खराब हैं. जब मैं बेटी से मिलने आया तो दामाद के द्वारा बताया गया कि आपकी बेटी मर गई हैं और हमलोगों ने अंतिम संस्कार कर दिया हैं.

बहरहाल मृतका के पिता, माता एवं भाई ने कानून का दरवाजा खटखटाया है. अब देखना बड़ा दिलचस्प होगा कि आगे कार्रवाई क्या होती है या फिर आवेदन कागजों के फाईल में सिमट कर रह जायेगी.