शौक के लिए नहीं बना सकते पीएम, राहुल पर अमित शाह का तंज

mit-sah-bjpग्राम समाचार, नई दिल्ली।  भाजपा ने रविवार को देश भर में लोक सभा चुनाव अभियान की व्यापक पैमाने पर शुरुआत कर दी। ऐसा उसने विजय संकल्प सभा के जरिये पूरे देश में किया। इसी क्रम में रविवार को आगरा में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जन सभा को संबोधित किया।

ऐसी ही सभाओं को लखनऊ में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और गौतमबुद्ध नगर में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संबोधित किया। ऐसी रैलियों और सभाओं का आयोजन 26 मार्च को भी किया जाएगा। इस योजना के तहत कुल 500 रैलियों और सभाओं का आयोजन किया जाना है, जिसे केंद्रीय मंत्री, भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता संबोधित करेंगे। इन सभाओं के माध्यम से भाजपा मोदी सरकार की पांच वर्ष की उपलब्धियां जनता को बताएगी। साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले पर विपक्ष को घेरेगी।

हमें ऐसा पीएम चुनना है जो पाकिस्तान को दे मुंहतोड़ जवाब

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को उत्तर प्रदेश के आगरा में पार्टी की ‘‘विजय संकल्प सभा’ में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बगैर उन पर निशाना साधा। शाह ने कहा कि किसी को जनता सिर्फ इसलिए वोट नहीं दे सकती कि उसकी प्रधानमंत्री बनने की उम्र निकली जा रही है या उसे प्रधानमंत्री बनने का शौक है।

उन्होंने कहा कि हमें ऐसा प्रधानमंत्री चुनना है, जो पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे। शाह ने एक सभा में विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार के पांच साल के शासन में उस पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा, जबकि दूसरी तरफ महागठबंधन है जो जाति और धर्म वाली सरकार चाहते हैं।

शाह ने कहा कि मायावती, शरद पवार, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, स्टालिन और चंद्रबाबू नायडू कहते हैं कि मोदी को हटाना है, लेकिन खुद चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार अगर आती है, तो प्रधानमंत्री कौन होगा, यह किसी को पता नहीं है।

उन्होंने कहा कि एक ऐसे नेता हैं, जो घूमने के लिए छह-छह महीने गायब रहते हैं और उनकी मां को भी पता नहीं होता कि बेटा कहां गया है। शाह ने इस मौके पर मोदी सरकार को गरीबों का हितैषी बताते हुए उसके द्वारा आम लोगों के लिए किए गए काम भी गिनाए।

शाह से पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में जाति, धर्म और क्षेत्र के स्थान पर गांव, गरीब और सबका विकास हुआ। उन्होंने शौचालय बनवाने, सौभाग्य योजना और उज्ज्वला योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रयागराज में भव्य कुंभ के दौरान नमामि गंगे परियोजना की वजह से गंगा की धारा अविरल भी थी और निर्मल भी।

ताजा समाचार