मुख्यमंत्री ने विधायक कापड़ीवास के पुत्र के निधन पर किया शोक व्यक्त

Haryana cmग्राम समाचार रेवाड़ी (हरियाणा)। 14 सितंबर-हरियाणा के मुख्यमंत्री   मनोहर लाल ने शुक्रवार को रेवाड़ी के विधायक रणधीर सिंह कापड़ीवास के निवास स्थान कापड़ीवास गांव में पहुंचकर उनके पुत्र दुष्यंत के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया तथा शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री ने विधायक कापड़ीवास के निवास पर हुए हवन में आहुति भी डाली।
सीएम मनोहर लाल ने कहा कि दिवंगत आत्मा की शांति के लिए हम सब भगवान से प्रार्थना करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि समय से पहले पिता के सामने पुत्र का निधन होना बेहद दुखदायी है। हम संकट की इस घड़ी में कापड़ीवास परिवार के साथ हैं। उन्होंने कहा कि जीवन-मरण भगवान के हाथ में है, जिस पर इंसान का कोई बस नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मुझे इस दुखद घटना का समाचार मिला तो मैंने विधायक रणधीर सिंह कापड़ीवास को फोन पर सांत्वना दी, मैं कापड़ीवास के इम्तिहान की दाद देता हूं कि यह व्यक्ति बहुत हिम्मतवाला है, जिन्होंने इतनी दुखद घटना के बावजूद भी हिम्मत नहीं हारी। उल्लेखनीय है कि 6 सितंबर को गुरूग्राम के एक निजी अस्पताल में दुष्यंत यादव का निधन हो गया था। वे बिमार चल रहे थे।
शोक व्यक्त करने वालों में हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़, एडीजीपी श्रीकांत जाधव, उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा, पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार दुग्गल, एसडीएम जितेन्द्र कुमार, डीएसपी सतपाल यादव, तहसीलदार मनमोहन, पूर्व मंत्री डा. एमएल रंगा, भाजपा जिला अध्यक्ष योगेन्द्र पालीवाल, महामंत्री अमित यादव, स्वामी धर्मदेव, आईजी विश्वविद्यालय के वीसी डा. मारकंडे, रजिस्ट्रार मदन लाल, मास्टर जोहरी लाल व जल सिंह भी शामिल रहे।
इसके उपरांत एम टैक कंपनी में बने हैलीपेड पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक पत्रकार द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि प्रदेश के हर किसान के बाजरे की 1950 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीद हो। इसके लिए किसान ई-दिशा पोर्टल पर अपनी बोई गई बाजरे की फसल का रजिस्ट्रेशन व ब्यौरा दर्ज करें। दक्षिणी हरियाण के पानी के बारे में उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में पानी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में पानी देना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

 –  राजेश कुमार , ग्राम समाचार रेवाड़ी।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>