देवघर स्थित मदरसा मैदान में स्थायी रूप से शिवलोक की स्थापना होगी,शिवलोक में चारों धाम का दर्शन कांवरिया श्रद्धालु कर सकेंगे– मुख्यमंत्री

logoग्राम समाचार,रांची (झारखंड)। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज चौथी सोमवारी के अवसर पर झारखंड मंत्रालय स्थित सभा कक्ष से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देवघर पहुंचे कांवरिया श्रद्धालुओं से सीधी बात की।श्री दास ने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों एवं दूसरे देशों से पहुंचे कांवरिया श्रद्धालुओं को बेहतर से बेहतर सुविधा प्रदान कराना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। देवघर एवं दुमका उपायुक्त के नेतृत्व में जिला प्रशासन की टीम ने कांवरिया श्रद्धालुओं के व्यवस्था हेतु प्रतिबद्धता के साथ कार्य किया है। पूरा विश्वास है कि आने वाले दिनों में भी बेहतर सुविधाएं श्रद्धालुओं को मिलती रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश से आए कांवरिया श्रद्धालुओं के लिए मेला एक्सप्रेस चलाने पर विचार किया जा रहा है। मेला एक्सप्रेस चलाने के संबंध में रेल मंत्री भारत सरकार से वार्ता हुई है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी से भी मेला एक्सप्रेस चलाए जाने पर विचार विमर्श किया गया है। मेला एक्सप्रेस चलाए जाने के प्रस्ताव पर रेल मंत्री भारत सरकार द्वारा सकारात्मक आश्वासन भी मिला है।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आने वाले वर्षों में देवघर को अंतर्राष्ट्रीय सांस्कृतिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। देवघर स्थित मदरसा मैदान में शिवलोक स्थापित होगी। शिवलोक में चारों धाम का दर्शन कांवरिया श्रद्धालु कर सकेंगे देवघर में जल्द ही एयरपोर्ट का भी निर्माण कराया जा रहा है जिससे दूसरे देशों अथवा राज्यों से कांवरिया श्रद्धालुओं को बाबा धाम आने में काफी सुविधा होगी। बस 2019 तक देवघर में एम्स स्थापना होगी साथ ही ओपीडी का शुभारंभ भी होगा। देवघर में राष्ट्रीय मानक के तौर पर स्वास्थ्य सुविधा स्थापित हो यह सरकार का लक्ष्य है।

सीधी बात के क्रम में भभुआ जिला बिहार से देवघर पहुंचे रामाश्रय शर्मा ने मुख्यमंत्री के समक्ष देवघर यात्रा का अनुभव साझा करते हुए कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष की व्यवस्था काफी अच्छी है। साफ सफाई से लेकर शौचालय,पानी बिजली इत्यादि की सुविधा बहुत ही कारगर तरीके से की गई है। चतरा जिला झारखंड से देवघर पहुंचे कांवरिया श्रद्धालुओं सुनील कुमार सिंह ने मुख्यमंत्री से देवघर आने का अनुभव साझा करते हुए कहा कि जिला प्रशासन ने इस वर्ष देवघर को स्वर्ग बना दिया है। बाबा भोलेनाथ को जल अर्पण करना बहुत ही आनंदमय लग रहा है। कांवरियों के सुविधा के लिए सिटी बस भी चलाई जा रही है जो एक बहुत अच्छी पहल है।

सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल से आए कांवरिया सरदारों श्री संजीव दास ने कहा कि सुल्तानगंज से देवघर तक बालू मिट्टी,पानी,शौचालय एवं टेंट सिटी की व्यवस्था बहुत ही अच्छे तरीके से की गई है। व्यवस्था अच्छी होने के कारण इस बार कांवरियों को किसी प्रकार की तकलीफ नहीं हो रही है।

बिहार से पहुंचे कांवरिया श्रद्धालु गोपाल सिंह ने मुख्यमंत्री को सभी बिहार के कांवरियों की तरफ से बधाई देते हुए कहा कि पिछले 7 वर्षों से हुए लगातार देवघर बाबा बैजनाथ धाम को जल अर्पण करने आ रहे हैं। पिछले वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष जिला प्रशासन एवं नगर निगम के लोग एक-एक कांवरियों पर नजर रखे हुए हैं एवं उनके सुविधा हेतु आवश्यक कार्य किया जा रहा है। इस बार देवघर में साफ-सफाई बहुत ही बढ़िया तरीके से किया गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि इस साल देवघर में मच्छर भी नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि हम कांवरिया बाबा बैद्यनाथ धाम से प्रार्थना करते हैं कि इसी तरह आप की सरकार निरंतर कांवरियों का सेवा करती रहे और झारखंड विकास की ओर अग्रसर हो। पलामू जिला झारखंड से देवघर पहुंचे कांवरिया श्रद्धालु श्रीमती पुष्पा देवी ने मुख्यमंत्री के समक्ष बताया कि हर साल की भांति इस साल साफ-सफाई बहुत ही अच्छी तरीके से की गई है। ठहरने हेतु टेंट सिटी का निर्माण कराना सरकार की अच्छी पहल है। उन्हें इस वर्ष किसी प्रकार की कोई दिक्कत बाबा भोलेनाथ को जल अर्पण करने मे नहीं हुई।

सुपौल जिले से पहुंचे कांवरिया सरदारों गोविंद कुमार मंडल ने मुख्यमंत्री के समक्ष कहा कि वर्ष 2013 से हुए देवघर आ रहे हैं। इस वर्ष की व्यवस्था उन्हें बहुत अच्छी लगी। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष हर क्षेत्र में सुविधाएं कारगर ढंग से की गई हैं. मुख्यमंत्री द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि देवघर का मौसम भी बहुत ही अच्छा है। इस वर्ष का मौसम कांवरिया श्रद्धालुओं के अनुकूल है।

उत्तर प्रदेश से पहुंचे कांवरिया श्रद्धालु दामोदर जी ने सरकार की तरफ से मिल रही सुविधाओं के लिए मुख्यमंत्री को बधाई दी। उन्होंने कहा कि देवतुल्य कांवरिया श्रद्धालुओं के लिए सरकार ने बहुत अच्छी नीति के साथ कार्य किया है। उनका देवघर आना सफल रहा। उत्तर प्रदेश से देवघर पहुंची महिला कांवरिया श्रद्धालु श्रीमती राजमति जी ने मुख्यमंत्री के समक्ष बताया कि इस वर्ष ठहरने,बिजली, पानी,सड़क,शौचालय,बेड,बेडसीड,चद्दर,बिजली,पंखा इत्यादि की सुविधा बहुत ही बेहतर है।

श्रद्धालु कांवरियों में श्रीमती बासमती देवी,बलराम यादव आदि ने भी मुख्यमंत्री के समक्ष अपने अनुभव साझा किए एवं कुछ आवश्यक सुझाव भी दिए। मुख्यमंत्री श्री दास ने कांवरियों द्वारा मिले सुझाव पर विचार करते हुए कहा कि आने वाले वर्षों में कांवरिया श्रद्धालुओं के लिए क्यू कंपलेक्स के सेकंड फेज के निर्माण के बाद जलार्पण के लिए लाइन को छोटा करने करने का प्रयास किया जाएगा ताकि कांवरियों को जल अर्पण करने में कम समय लगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्वीटर के माध्यम से भी कांवरिया श्रद्धालु अपने शिकायत एवं सुझाव दे सकते हैं। उनके शिकायत एवं सुझाव पर अविलंब कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने श्रावण मास की चौथी सोमवारी के अवसर पर झारखंड सहित अन्य राज्यों एवं विदेशों से पहुंचे कांवरिया श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं दी।

मुख्यमंत्री ने बाबा बैद्यनाथ से प्रार्थना किया कि देवघर पधारे देवतुल्य कांवरिया श्रद्धालुओं की मनोकामना भगवान शिव पूर्ण करें। कांवरिया श्रद्धालुओं को जल अर्पण कर जो नई ऊर्जा मिली है उसका उपयोग वे परिवार,समाज एवं राष्ट्र हित में करें। मुख्यमंत्री ने देवघर एवं दुमका जिला प्रशासन को बधाई दी और कहा कि जिला प्रशासन की टीम आगे भी प्रतिबद्धता के साथ अपनी जिम्मेवारी का निर्वहन करें। देवघर के उपायुक्त श्री राहुल कुमार सिन्हा ने कांवरियों से मुख्यमंत्री की बात कराई तथा मुख्यमंत्री को मार्गदर्शन के लिए आभार प्रकट किया।

-ग्राम समाचार,रांची।