खतरे के निशान के ऊपर पहुंची यमुना, दिल्ली में मच सकती है तबाही

yamuna-delhiग्राम समाचार , नई दिल्ली। पिछले तीन दिनों से हो रही लगातार बारिश से यमुना उफान पर है। वहीं, हरियाणा के यमुनानगर स्थित हथनीकुंड बैराज से पानी छोड़े जाने और पहाड़ी राज्यों में बारिश के चलते दिल्ली में यमुना का जल स्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। दो दिन बाद दिल्ली पहुंचने पर तबाही मचा सकता है। दिल्ली में सरकार ने यमुना के किनारे निचले इलाकों में रह रहे लोगों को अलर्ट जारी कर दिया है।

फिलहाल यमुना का जल स्तर 204.92 मीटर है जो कि खतरे के निशान से 0.09 मीटर ऊपर है। बताया जा रहा है कि यमुना के जलस्तर में बढ़ोतरी हुई तो इससे सटे इलाके डूब सकते हैं। यमुना में जल स्तर 204.83 मीटर के ऊपर जाते ही खतरा बढ़ जाता है। दिल्ली सरकार के सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग ने निचले इलाकों में रह रहे 100 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने की तैयारी कर ली है। इसके लिए 43 नाव मंगाई गईं हैं।

इसके मद्देनजर दिल्ली सरकार के सिंचाई व बाढ़ नियंत्रण विभाग ने चेतावनी जारी कर निचले इलाकों में रह रहे लोगों को झुग्गी झोपड़ियों को खाली करने का निर्देश दिया है। के महेश (जिलाधिकारी, ईस्ट दिल्ली जिला) ने बताया कि हमने जून महीने से ही इस स्थिति से निबटने की तैयारी शुरू कर दी थी। इसके लिए हमने उत्तरी दिल्ली जिला में एक कंट्रोल रूम तैयार किया है, जो अक्टूबर तक काम करेगा। डिप्टी कमिश्नर और डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट राहत व बचाव कार्य के इंतजामात देख रहे हैं।