रेवाड़ी पुलिस ने फिर पकडा शराब से भरा ट्रक 1150 पेटी शराब जब्त

ग्राम समाचार रेवाड़ी (हरियाणा) : एसपी राजेश दुग्गल ने जिस दिन पुलिस कप्तान का पदभार संभाला था उसी दिन से आम जनता से वादा किया था कि जिला मे शराब माफियाओं तथा शहर मे नशा बेचने वालों सहित अपराधिक गतिविधियों मे संलिप्त लोगो पर शिकंजा कसने के लिए वे दिन रात एक कर देंगे। और उन्होने ऐसा करके भी दिखाया है। एसपी की इस कार्रवाई का खौफ शराब माफियाओं व अन्य अपराधिक गतिविधियों मे शामिल लोगों मे पूरी तरह देखा जा सकता है। एसपी दुग्गल की कार्यशैली अनुसार कार्य करते हुए जिला पुलिस व धारूहेडा सीआइए प्रभारी अब्बास खान व उनकी टीम ने तीन बडे शराब माफियाओं की गिरेबान मे हाथ डाल कर एक माह के भीतर शराब से भरे दो ट्रक व एक गैस टैंकर सहित 10 पिकअप गाडी व अन्य दोपहिये वाहनांे मे करीब डेढ करोड रूपये की 40 हजार शराब की बोतले पकड कर शराब माफियाओं की कमर तौडने मे महारथ हासिल की है। बीती रात सीआइए पुलिस धारूहेडा को सूचाना मिली थी कि झज्जर की और से अवैध शराब का भरा हुआ ट्रक रोहडाई पटोदी, पटोदी से धारूहेडा तावडू होते हुए केएमपी की और जाने वाला है। सूचना अनुसार धारूहेडा सीआइए प्रभारी अब्बास खान ने एएसआई प्रीतम सिह, अबदुल रज्जाक व इकबाल तथा सिपाही विकास और नसीब सहित आकेडा नाकाबंदी कर उक्त ट्रक को रूकवाने का प्रयास किया लेकिन आरोपी चालक ट्रक को रोकने के बजाए बैरिकेट को तौडते हुए ट्रक को गुरूग्राम की और भगा ले गया। सीआइए पुलिस आरोपी का पीछा करती हुए केएमपी तक पहुंच गई। लेकिन वहां आरोपी चालक पुलिस को चकमा देते हुए पंचगांव से केएमपी पर ट्रक को लेकर पलवल की और निकल गया। सीआइए पुलिस ने केएमपी पर स्थित टोल पर उक्त ट्रक के बारे मे जानकारी ली और अवैध शराब की 1150 पेटी शराब से भरे हुए ट्रक को केएमपी पर पलवल टोल के नजदीक काबू किया। पुलिस ने मौके पर नागंल पठानी निवासी ट्रक चालक नरेश को भी काबू कर लिया। पुलिस ने आरोपी चालक के खिलाफ ड्युटी मे बाधा पहुचाने व आबकारी अधिनियम सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू की है।

एसपी श्री दुग्गल ने कहा कि शराब तस्करी के इस खेल मे शामिल किसी भी आरोपी को बक्शा नही जायेगा। दूसरी और एसपी के दिशा निर्देश पर शहर मे नशा बेचने वाले व अवैध हथियार रखने वालों के खिलाफ भी छापामार कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा मे अवैध हथियार पकड कर अपराधियों पर नकेल कसी है। इसी क्रम मे पुलिस ने नशा बेचने वालों पर भी लगातार छापामार कार्रवाई करते हुए उन्हे काबू किया हैं। जिला मे कार्यभार संभालते ही श्री दुग्गल ने अपराधों व अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए अपनी रणनीति तैयार की और शहर व जिले के जिम्मेदार सामाजिक व प्रतिष्ठित व्यक्तियों, सामाजिक संस्थाओं के लोगो के साथ बैठक कर अपराध व अपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए पुलिस का सहयोग करने की अपिल की। जिसका परिणाम जनता के सामने है। शराब तस्करी के साथ-2 उन्होने हाई प्रोफाइल तरीके से शहर मे मसाज सैंटर की आड मे चल रहे देहव्यापार पर रोक लगाने के लिए लगातार रेड डलवाकर दर्जनों युवक-युवतियों को आपत्तिजनक अवस्था मे काबू करवाया। इसके साथ शहर के होटल संचालकों के साथ बैठक की और बाहर से आने वाले संदिग्ध व्यक्तियों तथा अवैध रूप से आने वाले जोडो को होटलों मे कमरा ना देने के लिए संचालकों को हिदायत दी। इसके अलावा जिला मे पशु चोरी करने वाले मेवाती गिरोह पर भी शिकंजा कसते हुए गौ तस्करी पर भी रोक लगाने का प्रयास किया है। इस और कार्य करते हुए पुलिस जवानों ने जान की परवाह किए बैगर गौ तस्करो के साथ मुकाबला किया और कोसली मे एसपीओ को गाडी से कुचने वाले आरोपियों तथा राजस्थान के माॅस्ट वानटेड तथा दिल्ली के पच्चास हजारी बदमाश को काबू करने मे सफलता हासिल की है। इसके अलावा कुछ दिन पूर्व कसौला थाना क्षेत्र के एक गांव मे आठ वर्षीय नाबलिग बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले आरोपी को चंद घंटों मे ही दबोच कर बच्ची के शव को आरोपी के कमरे मेब नी अलमारी से बरामद कराना भी श्री दुग्गल की विशेष उपलब्धि रही है। इसके अलावा हाईवे पर होने वालें अपराधों पर रोक लगाने तथा सडक हादसों मे घायल लोगो को तुरन्त प्रभाव से प्राथिमक उपचार दिलाने के लिए श्री दुग्गल ने हाईवे पर टैªफिक सब बूथ बनाते हुए राइडर तैनात करने की पहल की है। तथा साथ ही महिला विरूध अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए कन्या स्कूल, महिला कालेज तथा महिलाओं के ज्यादा आवागमन वाले सार्वजनिक स्थानों पर महिला राईडर तैनात कर बिगडैल युवाओं पर शिकंजा कसने का काम किया है।