पाकुड में सर्पदंश से दो नाबालिग बच्ची की मौत

दोनों नाबालिग बच्ची फहतेपुर गांव स्थित बाबा तिलकामांझी प्राइभेट विद्यालय एलकेजी में पढ़ती थी

दोनों बच्ची जमीन पर सोया हुआ था

यह घटना बीते मंगलवार 11 बजे रात्रि को साँप ने काटा।

पाकुड। सर्पदंश से दो जिले के अमड़ापाड़ा प्रखंड से पांच किलोमीटर दूर फहतेपुर गांव स्थित पुराने प्रोजेक्ट विद्यालय में झारखंड हरि हरियाड़ एभेन समिति द्वारा संचालित बाबा तिलकामांझी आदिवासी आवासीय प्राइभेट विद्यालय में कक्षा एलकेजी में अध्ययनरत नाबालिग दो छात्रा उषा सोरेन पांच वर्षीय और मर्शिला हांसदा सात वर्षीय को एक साथ जहरीले सांप काटने से मौत हो गया है। दोनों मृतक बच्ची जिले के अमड़ापाड़ा प्रखंड अंतर्गत कोलखीपाड़ा गांव के दुर्गाडीह मारीडीह टोला का निवासी है। मृतक के पिता शिबू सोरेन और स्टीफन हांसदा बताया कि दोनों के साथ छात्रावास के फर्श पर सोने के दौरान एक जहरीले सांप ने काट दिया। विद्यालय के प्रधान शिक्षक मुकेश मुर्मू ने फोन पर देर रात को यह जानकारी दिया। मर्शिला हांसदा को शहरघाटी मिशन इलाज के लिए ले गया जहां इसका इलाज समय पर इलाज नहीं हो पाया। दोनों बच्ची को बेहोशी की हालत में बुधवार की सुबह गांव लाया गया। फिर झाड़फूंक किया गया।

बुधवार को सदर अस्पताल सोनाजोडी इलाज के लिए लाया गया। जहां डॉक्टर के द्वारा मृतक घोषित कर दिया। डॉक्टर ने मृतक।के।पिता।को बताया कि दोनों बच्ची की मौत जहरीले सांप के काटने से हुआ है इसके पूरा शरीर में जहर फेल गया है। वही गांव के ग्रामीण मनोज सोरेन, रोहित सोरेन, मिनातन हांसदा, श्रीलाल हांसदा, तरेशा हांसदा, शिवन हांसदा एवं मृतक के परिजनों ने विद्यालय प्रबंधन एवं प्रधान शिक्षक पर लापरवाही का  आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने बताया कि अगर विद्यालय छात्रावास में बच्चों की सोने के लिए उचित व्यवस्था रहता तो इस दोनों बच्ची की मौत सांप के काटने से नहीं होता। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस विद्यालय में 207 बच्चें अध्ययनरत है। सहायक शिक्षक सुधान मुर्मू ने बताया कि दोनों बच्ची के मौत से विद्यालय गम डूब हुआ है।

प्रधान शिक्षक मुकेश मुर्मू ने बताया कि दो बच्ची फर्श पर सोयी हुई थी अचानक एक जहरीले सांप ने काट दिया जिसमें दोनों बच्ची की मौत हो गया। दोनों बच्ची को बचाने के लिए बहुत प्रयास किया गया लेकिन नहीं बच पाई। मृतक के पिता शिबू सोरेन और स्टीफन हांसदा ने विद्यालय प्रबंधन पर कार्रवाई करने की आग्रह किया है।

सीओ सफी आलम ने बताया कि अबतक मुझे इस घटना की जानकारी नहीं है। में गांव जाकर मृतक के परिजनों से मिलकर आवश्यक जानकारी एवं विद्यालय जाकर भी जानकारी हासिल कर प्रावधानों के तहत कार्रवाई करुगा।

 

   – विनोद कुमार, ग्राम समाचार, पाकुड, झारखंड