बच्चों को घर से स्कूल तक बैग लाने की जरूरत नहीं पडेगी : उपायुक्त पंकज

ग्राम समाचार न्यूज़ रेवाड़ी  {हरियाणा} : हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद ने पढाई का तनाव कम करनेे तथा बैग फ्री शिक्षा व्यवस्था को लागू करने के लिए पिजन हॉल (बैग रखने का केबिन या रैक) स्कूलों में बनाने का निर्णय लिया है। पायलेट प्रोजैक्ट के रूप में रेवाडी जिला के प्रत्येक खण्ड में एक-एक स्कूल का चयन किया गया है। इन स्कूलों में यह पायलेट प्रोजैक्ट सफल रहा तो जिला के बाकि स्कूलों में भी इसे लागू किया जाएगा। उपरोक्त जानकारी देते हुए उपायुक्त पंकज ने बताया कि रेवाडी जिले के पांच स्कूल जिनमें रेवाडी खण्ड के राजकीय प्राथमिक स्कूल डालियावास, बावल खण्ड में राजकीय प्राथमिक पाठशाला टांकडी, जाटूसाना खण्ड में राजकीय प्राथमिक पाठशाला जाटूसाना, खोल खण्ड में राजकीय प्राथमिक पाठशाला खोल, नाहड खण्ड में राजकीय प्राथमिक पाठशाला नेहरूगढ स्कूल को पिजन हॉल के लिए चयन किया गया है। इन पाठशालाओं में स्कूल प्रबन्धन कमेटियां पिजन हॉल बनवाएगी। उन्होंने बताया कि स्कूल में आने वाले छोटे बच्चों में भारी भरकम बैग का बोझ कम करने के लिए नई कवायद शुरू की गई है। प्राथमिक स्कूलों के बच्चों के लिए पायलेट प्रोजैक्ट के रूप में जिले के पांच स्कूलों में पिजन हॉल तैयार किये जा रहे है। इन स्कूलों में पढने वाले बच्चों को घर से स्कूल तक बैग लाने की जरूरत नहीं पडेगी। बच्चें अपनी किताब और कापियां उनके लिए बनाये गये पिजन हॉल में ही रखकर जाएगें। पंकज ने बताया कि बच्चों को तनावरहित शिक्षा का माहौल देने के लिए मुख्याध्यापक और स्कूल प्रबन्धन समिति को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यह पायलेट प्रोजैक्ट सफल रहा तो जिले के अन्य प्राथमिक स्कूलों में भी यह सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।