15 वर्ष के सेवाकाल में पारा शिक्षकों को सभी सरकार ने छला बिक्रांत ज्योति ……

 

manch

ग्राम समाचार, महागामा (गोड्डा)। 15 वर्ष के सेवाकाल में सभी सरकार ने छला अनुवंध कर्मी पारा शिक्षकों को यह कहना था प्रदेश अध्यक्ष बिक्रांत ज्योति का। यह बाते गुरुवार को आयोजित झारखण्ड राज्य पारा शिक्षक महासंघ विधान सभा स्तरीय सम्मेलन में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा की यह सभा संकल्प सभा के रूप में आयोजन किया गया है। कहा की सरकार अनुबंध कर्मियों के साथ छलावा कर रही है जब वे विपक्ष में होते है तो अनुवंध कर्मी परा शिक्षको की मांग को जायज ठहराते है और सत्ता मिल जाने के वाद आँख दिखाते है इस लिए सकल्प लेने कि जरूरत है की आने वाले चुनाव में जाती पाती व धर्म के नाम पर वोट नहीं देगे हमारी मांग सामान काम के समान वेतन देगें वैसी सरकार बनाएगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महा सचिव सुनील पाण्डेय ने कहा कि हमने 17 वर्ष में सभी पार्टी की सरकार को देखा सभी ने परा शिक्षक व अनुवंध कर्मी को ठगने का कम किया है। ऐसे सरकार को फर्जी बताते हुए चुनौती देने कि बात कही। साथ ही सरकार को बोतल वादी सरकार बताया। उन्होंने स्थानीय निति को राज्य बटने वाली निति बताया कहा कि 13 जिले के लिए अलग निति और 11 जिले के लिए अलग निति यह कहा का स्थानीय निति है। प्रदेश महामंत्री सिंटू सिंह संघ सिध्दांत की संगठन बताते हुए कहा संकुल, प्रखंड, जिला स्तर पर संगठन को मजबूत बनाने की बात कही। साथ ही 19 तक अपने मांग को मनमाने के लिए संगठन को मजबूत करने की बात कही। कहा कि सर्बोच्च न्यालय के आदेश को रघुवर सरकार ने अनदेखी कर रही है। सरकार अनुबंध कर्मी के साथ खेल रहे है ऐसे घमंडी सरकार को उखाड़ फेकेगे।

bhidवही मौके पर छात्र नेता मनोज यादव ने कहा कि जाती व धर्म को वाट कर ये राजनितिक पार्टी सरकार बनाती है इस वार अनुबंध कर्मी जाती पाति व धर्म के नाम पर वोट नही करेंगे। उन्होंने एक जुट होकर सरकार के खिलाफ लड़ने कि बात कही। साथ ही सरकार को खूब खरी खोटी सुनाई कहा कि आज दारू बेचने बाले को सरकार 25000 देती है और पर शिक्षक को 9000 देती है यह कहा का इंसाफ है।

गिरिडीह जिला अध्यक्ष नारायण महतो ने कहा सरकार को यह संदेश देना चाहते है कि राज्य अलग होने से 17 वर्ष हो गए है और पारा शिक्षक को भी 15 वर्ष हो गए है। वारी वारी से सभी पार्टी ने राज्य में सरकार चलाई लेकिन सभी सरकार ने हम लोगों को सिर्फ छला है। उन्होंने कहा की बर्तमान सरकार बनाने में हम युवाओं ने महत्वपूर्ण योगदान दिया लेकिन आज सरकार अपने किये गए वादे से मुकर रही है।

हजारीवाग के चंदन मेहता ने कहा कि सरकार पॉलिसी तो ठीक बनाती है लेकिन काम करने वालो को मजदूरी नही देती अब तक सिर्फ शोसित ही हो रहे है। इसके लिए हम लोग लगातार संघर्ष करते रहे है। उन्होंने कहा की जव तक हमारी मांगों को नहीं देती हमारा संघर्ष जरी रहेगा।

साहेबगंज जिला अध्यक्ष विकास चौधरी ने पारा शिक्षक को शिक्षा व्यबस्था का रीढ़ बताया। परा शिक्षक को  सभी पार्टी के नेताओं ने छला है। यह भाजपा की सरकार झूटी सरकार है सरकार अपने वादों से मुकर रही है। दुमका जिला के जिला अध्यक्ष शलेश राय ने कहा कि समान काम के समान दाम देना होगा। वही उन्होंने उपस्थित कर्मियों से कहा की एक संकल्प लेकर जाए जो पार्टी हमारा काम करेंगा उसे लिखित समझौता होगा  तभी हम उस पार्टी को बोट देगे।

bhid 1वही धनबाद जिला से संघ सचिव सिद्दीक शेख ने कहा कि रघुवर सरकार आज तक हम कर्मियों को झारखंडी नही समझता है उन्होंने इस सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्प लेने कि बात कही। पलामू जिला अध्यक्ष मनोज सिंह ने कहा कि 15 वर्षो से यह संघर्ष चली आरी है सरकार को झुकने के लिए बोट बैंक बनना होगा हमारी इस प्रकार के सम्मेलन से सरकार की नीद उड़ चुकी है। पारा शिक्षक संघ के जिला अध्यक्षक देबघर सुशील झा ने कहा कि जो सरकार हमे अधिकार देगे उसे हम बोट करेंगे। उन्होंने हर जिले में सम्मेलन होने कि बात कही बताया की जिस दिन हमारा यह कम पूरा हो जाएगा उस दिन सरकार की गद्दी उखाड़ जाएगी। उन्होंने कहा जिस प्रकार सरकार हम अनुबंध कर्मी को परेशान कर रही है चुनाव के समय मे सरकार को परेशान के देगें।

यह कार्यक्रम गुरुवार को महागामा स्थित उर्जा नगर राजेन्द्र स्टेडियम में अनुबंध कर्मी पारा शिक्षक संघ द्वारा आयोजित एक दिवसीय बिधान सभा स्तरीय सम्मेलन का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम में सहिया, रसोइय भी शामिल थे। संघ ने इनके मानदेय की  बढ़ोतरी को लेकर लड़ाई लड़ने की बात कही। कार्यकम को सफल बनाने में प्रखंड अध्यक्ष  नासिमुल हक, मो० अफसार, मो० इरसाद, ओम प्रकाश, मो० मन्नान, राजीव पोद्दार, नीरज कुमार त्पेस्व्र कुमार, राजेश कुमार, रुपेश कुमार, अजय कुमार सहित सैकड़ो महिला अनुवंध कर्मी व पारा शिक्षक  उपस्थित थे।

   – ग्राम समाचार महागामा गोड्डा ब्यूरो रिपोर्ट।