इंटक के कार्यकर्ताओं का बी एम एस कार्यालय पहुचने पर भव्य स्वागत

gslogoग्राम समाचार सोनभद्र (उत्तर प्रदेश)।  खड़िया परियोजना में इंटक से संबद्ध संगठन के कार्यकर्तागण   एस एन सिंह के नेतृत्व में बी एम एस कार्यालय पहुचे जिसपर बी एम एस के कार्यकर्ताओ द्वारा उनका भव्य स्वागत किया गया ।

इस अवसर पर स्वागत से अभीभूत एस एन सिंह ने कहा कि इंटक की आपसी लड़ाई से सबसे अधिक नुकसान और असुरक्षा की भावना आज इंटक के आम कार्यकर्ताओ में है । कारण आपसी लड़ाई में परि ,एन सी एल और सी आई एल सभी स्तर पर आज इंटक के सभी गुट मान्यता से बाहर हो चुके है । जिसके करण इंटक कार्यकर्ताओ की छोटी से छोटी समस्याओं के लिए स्वयं दौड़ना पड़ रहा है या विभिन स्तरों पर मान्यता प्राप्त अन्य संगठनों के पदाधिकारी के यहाँ अनुनय विनय करना पड़ रहा है । वर्तमान में कार्यकर्ताओं की ये स्थिति अब बर्दास्त से बाहर हो चुकी है ।  इस स्थिति बी एम एस संगठन के पदाधिकारी व जे सी सी सदस्य   मुन्नी लाल   , बी के के एम एस बीना के महामंत्री अरुण दुबे   , कार्यकारी अद्ध्यक्ष बेचूलाल संयुक्तमंत्री दददी प्रसाद , विनोद सिंह बघेल जी के बी एम एस में विलय के प्रस्ताव पर कर्मचारीयों के हित में हम सभी कार्यकर्ताओं ने निर्णय लिया है कि देश की क्रमांक एक के रूप में मान्यता प्राप्त संगठन बी एम एस में भारी संख्या में सदस्यता ग्रहण कर इसे और मजबूत बनाकर कर्मियों को समस्याओ से निजात दिलाएंगे ।

इस अवसर पर बी एम एस के पूर्व पदाधिकारी विनोद सिंह बघेल ने इंटक कार्यकर्ताओ का स्वागत करते हुए कहा कि हमारी सबसे बड़ी ताकत हमारे कार्यकर्ता है जिनकी संख्या व एकता की ताकत पर प्रबंधन को कर्मियों की समस्याओं का निराकरण करने को बाध्य होना पड़ेगा । आज परि में आवास ,वेलफेयर ,चिकित्सा सुविधाएं पूरी तरह चरमरा चुकी है । संगठन इसे प्राथमिकता पर लेते हुए वार्ता या आंदोलन जो भी रास्ता जरूरी होगा उसे अपनाने से अब जरा भी पीछे नही हटेगा ।

परि के सचिव अशोक उपाध्याय ने कहा कि कर्मियों के हित मे इंटक कार्यकर्ताओ के एस एन सिंह के नेतृत्व में भारी संख्या में बी एम एस में विलय के निर्णय का हम संगठन की ओर से स्वागत करते है ।साथ साथ आपको इस अवसर पर विश्वाश दिलाना चाहते है कि अब हम सभी मिलकर परि कर्मचारीयो की सभी समस्याओ का उचीत हल निकालने हेतु दूनी गति से प्रयास करेंगे ।

कार्यालय आये सभी इंटक कार्यकर्ताओ का परि अध्यक्ष खुशहाल सिंह ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस विलय से परि में एक नई चेतना जागृत होगी और अन्याय से लड़ने में हमे ताकत मिलेगी ।

इस अवसर पर इंटक और बी एम एस के प्रमुख कार्यकर्ता  एम एल विश्वकर्मा ,शकल नारायण यादव ,रावेंद्र तिवारी , रामायण चतुर्वेदी ,धनेश तिवारी ,प्रेमलाल पटेल ,ज्ञानेंद्र पांडेय ,सईद अनवर ,जितेंद्र पटेल ,घनश्याम मिश्रा ,हरेंद्र पटेल आदि ने कर्मचारीयो के हित मे इंटक कार्यकर्ताओ के बी एम एस में विलय पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए अपनी सहमति व्यक्त की ।

 – ग्राम समाचार सोनभद्र ब्यूरो रिपोर्ट।