पाकुड़: विधालय प्रबन्धन की लापरवाही से एक पहाड़िया बच्चा की मौत

ग्राम समाचार, पाकुड़(झारखंड)। जिले के अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र डूमरचीर गांव स्थित अनुसूचित जनजाति आवासीय विद्यालय के छात्रावास में एक पहाड़िया छात्र की मौत पानी में डूब कर हुआ। अनुसूचित जनजाति आवासीय पहाड़िया विधालय के छात्र संजय पहाड़िया उम्र सात बर्ष पहला कक्षा पढ़ता था। छात्र की मौत विधालय प्रबंधन की लापरवाही के हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार पाडेरकोला पंचायत के झुझको निवासी संजय पहाड़िया वीते बुधवार को दोपहर का खाना खा कर अपने विधालय से गायब था इसकी सुचना किसी को नहीं थी। जब संध्या को संजय पहाड़िया विधालय नहीं आया तो किसी ने कोई खबर नहीं लिया। गुरुवार सुबह 10 बजे से संजय की खोज करने लगा। किसी अन्य व्यक्ति के माध्यम से विधालय को सुचना मिला की संजय पहाड़िया की मौत विधालय के समीप चेक डेम में डूबा हुआ है। जब की इस विधालय प्रांगण में दो दो चापाकल है।

छात्र की लाश को निकालते पुलिस

इससे पहले डूमरचिर मुखिया बरसन हेम्ब्रम को सुचना मिला और तुरंत थाना को खबर करने थाना पहुंच कर पुलिस को दिया। पुलिस को सुचना मिलते ही बाल पदाधिकारी एएसआई प्रमोद राय चेक डेम पहुंच कर छात्र की लाश को कब्जे लेकर थाना लाया। पुलिस ने लाश को पोस्टमाँडम के लिए पाकुड़ भेज दिया गया। इस घटना की जानकारी मिलते ही डीसी दिलीप कुमार झा, डीडीसी अजीत शंकर विधालय पहुंचकर विधालय के प्रधान शिक्षक उमेश प्रसाद यादव को फटकार लगाये और बच्चे के घर झुझको भी गए ।

क्या कहते है स्थानीय मुखिया ………

बरसन हेम्ब्रम ने बताया की विधालय प्रबंधन की लापरवाही एवं गलती से इस छात्र की मोत हुआ है। इसका छात्र के मोट का जिम्मेदार सिर्फ प्रधान शिक्षक एवं छात्रावास के अधीक्षक है।

क्या कहते है शिक्षक सह छात्रावास अधीक्षक…………

तेजप्रकाश प्रभाकर ने बताया की छात्र की खोजबीन हम लोग वीते शाम से कर रहे है आज सुबह पानी में डूब कर मरने की खबर मिली है।  

 

क्या कहते है डीसी ………….

दिलीप कुमार झा ने बताया की इस बच्चे की मौत विधालय की लापरवाही के कारण हुआ है इस मामलें में जाँच कर विधालय प्रबंधन एवं प्रधान शिक्षक पर कार्रवाई किया जायेगा।

 

      – विनोद कुमार, ग्राम समाचार, पाकुड़(झारखंड)।