बसंतराय पोखर में जलकुंभी व गंदगी का अंबार

bsntray pokhr

ग्राम समाचार बसंतराय (गोड्डा)।  ऐतिहासिक बसंतराय मेला में कुछ ही दिन शेष है लेकिन तालाब को प्रदूषण मुक्त कराने की दिशा में कोई पहल नहीं की जा रही है। इस समय बसंतराय पोखर गंदगी की चपेट में है। जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं।

ब्राह्मण उत्थान संस्थान के जिला अध्यक्ष श्री नितेश कुमार मिश्रा ने बताया कि मार्च महीना लगभग बीत चुका है 14 अप्रैल को मेला का आयोजन होना है। स्थानीय व प्रशासनिक स्तर पर सफाई की दिशा में सकारात्मक कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। परिणाम स्वरुप इस बार भी श्रद्धालुओं को प्रदूषित पानी में ही आस्था की डुबकी लगानी होगी साथ ही पेयजल की भारी किल्लत झेलनी पड़ेगी।

ब्राह्मण उत्थान संस्थान के जिला अध्यक्ष श्री नितेश कुमार मिश्रा ने बताया कि इस मेले से सरकार को प्रतिवर्ष लाखों रुपए राजस्व की प्राप्ति होती है। इसके बावजूद तालाब के सौंदर्यकरण की दिशा में प्रशासन का रवैया सदा ही नकारात्मक और उदासीन रहा है। जिसके कारण पूरे तालाब में जलकुंभी का साम्राज्य है। इसके अलावा दुकानदारों द्वारा भी पोखर को अतिक्रमण कर लिया गया है तथा पोखर को दूषित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

तालाब के किनारे कई ऐसे स्थान हैं जहां कूड़े के ढेर लगे हुए हैं पर्यावरण के लिए खतरा बन चुकी पोलिथिन थैलियों पर कानूनी पाबंदी का कोई असर नजर नहीं आ रहा। जनता वह दुकानदार दोनों ही धड़ल्ले से इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। इस दिशा में अगर कोई सकारात्मक पहल नहीं की गई तो मेला के समय में श्रद्धालुओं को अत्यधिक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

– ग्राम समाचार बसंतराय(गोड्डा)।