संस्कारशाला के बच्चों को अडाणी फाउंडेशन की तरफ से दिए गए गर्म कपड़े

shanskar shalaग्राम समाचार गोड्डा (झारखंड)। गोड्डा जिला में  परसा काली मंदिर में चल रहे संस्कारशाला में सुबह 5 बजे से 7 बजे तक पढ़ने आने वाले बच्चों को अडाणी फाउंडेशन की तरफ से मंगलवार को गर्म कपड़े बांटे गए। यहां पढ़ने आने वाले छोटे बच्चों के बीच कुल 77 स्वेटर बांटे गए।  यहां करीब 150 बच्चों को निःशुल्क शिक्षा दी जाती है।

बढ़ते ठंड की वजह से आजकल कम बच्चे पढ़ने आ रहे हैं। ऐसे में अडाणी फाउंडेशन द्वारा इन बच्चों को गर्म कपड़े देने की जरूरत महसूस हुई ताकि ठंड की वजह से बच्चे पढ़ाई से वंचित न रह पाएं। गौरतलब है कि संस्कारशाला में करीब  150 ग्रामीण बच्चों को   निःशुल्क शिक्षा दी जाती है।

उल्लेखनीय है की यहाँ पर सेवानिवृत्त बैंक अधिकारी, शिक्षक, नगर परिषद अध्यक्ष आदि  स्वैच्छिक रूप से शिक्षादान करते हैं। संस्कारशाला की शुरुआत एक सेवानिवृत्त शिक्षक स्वार्गीय नरेश मोहन झा ने महज एक बच्चे के साथ की थी। इस स्कूल में शिक्षा बांटने आने वाले पूर्व शिक्षक प्राणधन चौधरी को 1992 में राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिल चुका है।

शिक्षक समूह में शामिल नगर परिषद अध्यक्ष अजित कुमार सिंह के मुताबिक ये पाठशाला नहीं संस्कारशाला है, जहां बच्चों को शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी देने का प्रयास सभी के साथ कर रहे हैं। ऐसे में अडाणी फाउंडेशन का यह प्रयास भी सराहनीय है।

नगर अध्यक्ष अजित सिंह ने बताया  कि जिन बच्चों के माता पिता गरीब किसान हैं और बच्चों को  शिक्षा की समुचित व्यवस्था नहीं कर पाते हैं, वैसे बच्चों के भविष्य निर्माण की दिशा में ये संस्कारशाला एक छोटी सी पहल है। वहीं फाउंडेशन की तरफ से बताया गया कि 12 राज्यों की 21 साइटों में इस तरह का अभियान चलाया जा रहा है, जहां जरूरतमंदों को गर्म कपड़े बांटे जाते हैं।

स्कूली बच्चों को जहां नए स्वेटर दिए जाते हैं, वहीं फाउंडेशन के कर्मचारी गर्म कपड़े इकट्ठा करके जरूरतमंदों तक भी पहुंचा रहे हैं। इसके अलावा कुछ टोपियां व दस्ताने भी वितरित किए गए। इस दौरान यहां रोज शिक्षादान करने आने वाले प्राणधन चौधरी, नरोत्तम ठाकुर, प्रदीप कुमार मंडल, सुनील कुमार झा, कांति शाह आदि भी मौजूद थे।

–  ग्राम समाचार गोड्डा,  ब्यूरो रिपोर्ट।