अनियमितता पर भड़की मंत्री ने कहा पहले पूरा काम फिर उदघाटन

    पुल का जायजा लेती मंत्री डॉ०लुईस मरांडी बसकीडीह में

ग्राम समाचार, मसलिया : मसलिया में रविवार को विभिन्न पुल व विधायक निधि के योजनाओं का उदघाटन करने पहुंचे सूबे की समाज कल्याण मंत्री सह क्षेत्र की विधायक डॉ० लुईस मराण्डी बसकीडीह-रागदापाड़ा पुल निर्माण कार्य में अनियमितता पर बिफर पड़ी। उदघाटन के लिये पहुंची मंत्री ने कार्य पूरा न होने तक उदघाटन नहीं करने की बात कह डाली। वहीं पुल के कार्यपालक अभियंता जयप्रकाश सिंह को फटकार भी लगाई। मंत्री डॉ० मरांडी ग्रामीणों के शिकायत पर निर्मित पुल का निरीक्षण करने गयी। जहां अनियमितता का अंबार था। पुल के दोनों ओर सड़क पुल से ठीक से जुड़ा नहीं था। सेप्टी के रेलिंग की बात जो नहीं था। गार्डवाल पर खानापूर्ति व पत्थरों का ढेर था जो नीचे खेत में ढह कर गिर रहा था। पत्थरों को सीमेंट से जोड़ा नहीं था। पुल के आगे घुमावदार संकरी सड़क बड़ी दुर्घटना को आमंत्रित करती नजर आ रही थी। काम कराने वाले ठीकेदार माणिक दे अपने मुंशी अमित महतो को आगे कर खुद गायब था। पुल की प्राक्कलित राशि लगभग तीन करोड़ रुपये का है। जिसकी लम्बाई सवा स्पेन 115 मीटर है। कुल मिलाकर अच्छे से काम के लिए राशि समुचित थी पर यहां में शुरू से अनियमितता बरती गई। ग्रामीणों ने कई दफा मोटे बालू, जंग लगे व पतले छड़, सस्ते सीमेंट को लेकर काम को रुकवाया भी था। मंत्री ने यहाँ सात अन्यान्य विधायक निधि योजनाओं का शिलान्यास करते हुए कार्यपालक अभियंता को बाकी बचे पूरा काम करा देने की बात कहकर से पुल का उद्घाटन कर दी। बसकीडीह ग्राम प्रधान निमाई चंद्र मंडल ने कहा कि जो एक बार उद्घाटन हो गया सो हो गया अब आशा नहीं है कि दोबारा और काम होगा। यह पुल तो बना पर आने वाले समय के लिए मरघट की स्थिति बनाकर चल गया। मौके पर कई भाजपा कार्यकर्ता व ग्रामीण उपस्थित रहे।

केसरीनाथ यादव, ग्राम समाचार, मसलिया, दुमका

 

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>