बौंसी प्रखंड के सभी सरकारी विद्यालयों में “सड़क सुरक्षा और दुर्घटना से बचाव” के लिये हुआ शिक्षक अभिभावक गोष्ठी

बौंसी प्रखंड के सभी विद्यालयों में आज शिक्षक अभिभावक गोष्ठी का आयोजन किया गया। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने इसके लिए पहले ही पत्र जारी कर दिया था, जिसके तहत सभी विद्यालय में गोष्ठी आयोजित की गई।
शिक्षक अभिभावक गोष्ठी आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य “सड़क सुरक्षा और दुर्घटना से बचाव”था। लगातार बढ़ रही सड़क दुर्घटना के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही हैं,इसलिए इस गोष्ठी के माध्यम से शिक्षकों ने अभिभावकों और छात्रों को वाहन चलाने के लिये आवश्यक निर्देशों से अवगत कराया।
शिक्षकों ने बताया कि, बाइक चलाते समय हमेशा हेलमेट पहने तथा शराब पीकर गाड़ी ना चलाएं इसके अलावा सही तरीके से इंडिकेटर का उपयोग करें। हमेशा गाड़ी चलाते समय सामने की तरफ नजर बनाए रखें और ध्यान से गाड़ी चलाएं। पीछे की ओर से आते हुए गाड़ियों पर मिरर की मदद से ध्यान बनाए रखें। ओवरटेक करते समय सभी नियमों का ध्यान रखें।
बाइक ड्राइवर के साथ एक ही व्यक्ति बैठ सकता है और उसे भी हेलमेट पहनना होगा।
आजकल नाबालिग छात्र भी दोपहिया वाहनों को खूब चला रहे है किंतु नये मोटर परिवहन अधिनियम 1 सितंबर के लागू होते ही नाबालिग द्वारा गाड़ी चलाते पकड़े जाने पर 25000 जुर्माना और 3 साल की सजा के साथ साथ वाहन का निबंधन भी रद्द किया जाने का प्रावधान किया गया है और इस संबंध में नाबालिग और अभिभावक दोनों दोनों दोषी माने जाएंगे तथा ऐसी स्थिति में नाबालिग को 25 वर्ष की उम्र तक लाइसेंस जारी नहीं किया जायेगा।

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>